ह्युंडई सैंट्रो का नाम एक वक्त भारत की मशहूर कारों की नाम में शुमार था. इस मशहूर हैचबैक कार को सबसे पहले साल 1998 में भारत में लॉन्च किया गया था. लेकिन दिसंबर 2014 में कंपनी ने इस कार का प्रोडक्शन बंद कर दिया था. अब खबर है कि ह्युंडई सैंट्रो एक बार फिर भारतीय बाज़ार में एक नए अवतार में एंट्री लेने वाली है. न्यू-जेनेरेशन ह्युंडई सैंट्रो को साल 2018 के मध्य तक भारत में लॉन्च किया जा सकता है.

बताया जा रहा है कि 2018 ह्युंडई सैंट्रो को मशहूर हैचबैक ह्युंडई i10 (ह्युंडई ग्रैंड आई10 नहीं) के रिप्लेसमेंट के तौर पर उतारा जाएगा. कंपनी को पूरी उम्मीद है कि एक बार फिर ह्युंडई सैंट्रो नए अवतार में भारतीय मार्केट पर राज करेगी.

खबरों के मुताबिक, ह्युंडई सैंट्रो की डेवलपमेंट के लिए कंपनी करीब 1,000 करोड़ रुपये का निवेश करेगी. न्यू-जेनेरेशन ह्युंडई सैंट्रो में 1.1-लीटर iRDE और 1.2-लीटर Kappa इंजन लगाया जा सकता है. इन दोनों इंजन को 5-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स और ऑटोमेटेड मैनुअल ट्रांसमिशन से लैस किया जाएगा.

नई ह्युंडई सैंट्रो का भारतीय बाज़ार में मुकाबला रेनो क्विड, मारुति सुजुकी सेलेरियो, टाटा टियागो जैसी कारों से होगा. कार की अनुमानित कीमत 3.5 लाख रुपये से लेकर 5 लाख रुपये के बीच बताई जा रही है.