नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल यानी मंगलवार को बिहार पहुंच रहे हैं. वे मोतिहारी में चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष के समापन समारोह में शिरकत करेंगे. पीएम मोदी इस मौके पर लोगों को बापू के सत्याग्रह की तरह स्वच्छाग्रह करने का संदेश देंगे. इस कार्यक्रम में देशभर के 20 हजार से ज्यादा स्वच्छाग्रही शिरकत करने वाले हैं. इसके लिए ‘स्वच्छग्राम’ टेंट सिटी बनाई गई है. चंपारण सत्याग्रह के शताब्दी वर्ष समारोह के अलावा पीएम मोदी बिहार में कई अन्य परियोजनाओं का भी उद्घाटन-शिलान्यास करेंगे. मोतिहारी के गांधी मैदान में होने वाली पीएम मोदी की सभा को लेकर बिहार में तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है.

देशवासियों को स्वच्छता की शपथ दिलाएंगे पीएम मोदी
मोतिहारी में होने वाले चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष के समापन समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी देशवासियों को प्रेरित करेंगे कि वे स्वच्छता के प्रति राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की तरह शपथ लें. जिस तरह बापू ने चंपारण से सत्याग्रह की शुरुआत कर अंग्रेजों को देश से उखाड़ फेंका, उसी तरह का समर्पण हमें स्वच्छता के प्रति दिखाना होगा. पीएम के इस कार्यक्रम को ऐतिहासिक बनाने के लिए देशभर में स्वच्छता को लेकर काम करने वाले कार्यकर्ताओं का दल मोतिहारी पहुंच रहा है. बता दें कि चंपारण शताब्दी समारोह की शुरुआत पिछले साल 18 अप्रैल 2017 को सीएम नीतीश कुमार ने की थी. सीएम नीतीश कुमार ने समारोह की शुरुआत करते हुए 8 किलोमीटर की पदयात्रा की थी.

मधेपुरा रेल कारखाने में बना 12 हजार हॉर्स पावर का इंजन देश को समर्पित करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी. (फाइल फोटो)
मधेपुरा रेल कारखाने में बना 12 हजार हॉर्स पावर का इंजन देश को समर्पित करेंगे पीएम नरेंद्र मोदी. (फाइल फोटो)

 

पीएम देश को सौंपेंगे 12 हजार हॉर्स पावर का रेल इंजन
चंपारण शताब्दी वर्ष समापन समारोह के दौरान पीएम मोदी मधेपुरा की ग्रीनफील्ड लोकोमोटिव फैक्ट्री राष्ट्र को समर्पित करेंगे. साथ ही मधेपुरा रेल इंजन कारखाने में फ्रांस के सहयोग से बने 12 हजार हॉर्स पावर के रेल इंजन को भी देश को समर्पित करेंगे. यह इंजन भारत में अब तक का सबसे शक्तिशाली रेल इंजन है. इसके अलावा पीएम मोदी कटिहार से नई दिल्ली के बीच चलने वाली नई हमसफर एक्सप्रेस ट्रेन को हरी झंडी दिखाएंगे. वहीं वे मुजफ्फरपुर-सुगौली-वाल्मीकिनगर रेलखंड के दोहरीकरण कार्य का शिलान्यास भी करेंगे. चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष समारोह को लेकर केंद्र सरकार का संस्कृति मंत्रालय मोतिहारी और मुजफ्फरपुर में प्रदर्शनी भी लगाएगा.

रेलवे ने शुरू किया 12 हजार हॉर्स पावर के इंजन का ट्रायल, दोगुनी रफ्तार से दौड़ेंगी मालगाड़ियां