रांची। भारतीय जनता पार्टी के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने आज सियासी गर्मी और बढ़ा दी. बीजेपी के वरिष्ठ नेता शत्रुघ्न सिन्हा आज रांची पहुंचे और रिम्स अस्पताल में भर्ती लालू प्रसाद यादव से मुलाकात की. इस मुलाकात के बाद उन्होंने कहा कि मैंने उनसे उनकी सेहत को लेकर मुलाकात की. हम लोग परिवार जैसे हैं और और उनकी हालचाल पूछने के लिए लालू से मिलने आया था. बहरहाल, इस मुलाकात ने बिहार में सियासी कयासबाजी को बढ़ा दिया है.

अपने इस कदम से शत्रुघ्न सिन्हा ने अपनी पार्टी के लिए असहज स्थिति पैदा कर दी. चारा घोटाले के चौथे मामले में आज लालू यादव को 7-7 साल की सजा सुनाए के कुछ देर बाद ही सिन्हा ने उनसे मुलाकात की. इस दौरान शत्रुघ्न के साथ पूर्व कांग्रेस मंत्री सुबोधकांत सहाय और पूर्व सपा सांसद किरणमय नंदा भी थे. मुलाकात के बाद शत्रुघ्न ने लालू यादव की खूब तारीफ करते हुए कहा कि लालू जी के साथ जनता का आशीर्वाद है.

चारा घोटाला: लालू यादव को अबतक की सबसे बड़ी सजा, 30 लाख जुर्माना भी

चारा घोटाला: लालू यादव को अबतक की सबसे बड़ी सजा, 30 लाख जुर्माना भी

शत्रुघ्न की लालू यादव से इस मुलाकात के बाद चर्चाओं का बाजार गर्म है. खास तौर पर तीसरे मोर्चे के गठन की सुगबुगाहट के बीच ये मुलाकात काफी अहम मानी जा रही है. मुलाकात के बाद शत्रुघ्न ने कहा कि लालू जी का आत्मविश्वास देखकर मुझे अच्छा लगा. वह इलाज के लिए एम्स ले जाने की बात कह रहे हैं.

शत्रुघ्न की बीजेपी को नसीहत

शत्रुघ्न लंबे अरसे से अपनी ही पार्टी से नाराज हैं और कई बार अपने बयानों से पार्टी को असहज स्थिति में डाल देते हैं. लोकसभा उपचुनाव में करारी हार के बाद उन्होंने बीजेपी को आत्मचिंतन की नसीहत भी दी थी. हाल ही में शत्रुघ्न सिन्हा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आंध्र प्रदेश और बिहार के लिए पैकेज की मांग की.. उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से आंध्र प्रदेश और बिहार के लिये ‘यथाश्रेष्ठ’ पैकेज मांगा था. बिहार के पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्‍न सिन्हा ने कहा, सर ये सब क्या हो रहा है. आपने वादा किया था. सरकार ने वादा किया था. चंद्रबाबू नायडू और आंध्र प्रदेश निश्चित ही पैकेज के हकदार हैं. और हमारे बिहार और हमारे नीतीश भी पैकेज के हकदार हैं.