नई दिल्ली. बिहार में राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के चारा घोटाले में जेल जाने के बाद भी सीएम नीतीश कुमार की मुश्किलें कम नहीं हुई हैं. क्योंकि लालू के बेटे और प्रदेश के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी प्रसाद यादव महागठबंधन में दरार डालने को लेकर सीएम नीतीश कुमार पर हमला कर रहे हैं. वे इन ‘हमलों’ से नीतीश कुमार की मुश्किलें कम नहीं होने दे रहे हैं. इन हमलों में बयान भी है और तस्वीरें भी. तेजस्वी यादव मीडिया के जरिए हो या सोशल मीडिया के जरिए, सीएम नीतीश कुमार पर हमला करने से चूकते नहीं हैं. तेजस्वी का यह ‘हमला अभियान’ अब ‘कार्टून-पॉलिटिक्स’ में बदल गया है. बीते 4 अप्रैल को राष्ट्रीय जनता दल ने बिहार की एनडीए सरकार का रिपोर्ट कार्ड जारी किया, इसके बाद से ही तेजस्वी यादव अपने टि्वटर हैंडल पर लगातार कार्टूनों के जरिए नीतीश सरकार पर हमला कर रहे हैं. हमने तेजस्वी प्रसाद यादव के आधिकारिक टि्वटर हैंडल पर पोस्ट किए गए इन कार्टून जुटाए हैं. आप भी देखिए तेजस्वी यादव का ‘कार्टून-वार’.

नीतीश के साथ-साथ सुशील मोदी भी निशाने पर

तेजस्वी यादव अपने टि्वटर हैंडल पर सिर्फ सीएम नीतीश कुमार पर ही निशाना नहीं साध रहे, बल्कि राज्य के डिप्टी सीएम व भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी पर भी सियासी हमला करते रहे हैं.

लालू के जेल जाने के बाद से हुए हमलावर
तेजस्वी यादव का यह राजनीतिक ‘अभियान’ अररिया लोकसभा सीट के उपचुनाव के समय से ही चल रहा है. इस सीट के लिए हो रहे उपचुनाव के साथ-साथ प्रदेश में दो विधानसभा क्षेत्रों के लिए भी उपचुनाव हो रहे थे. तेजस्वी यादव ने इस मौके का भरपूर फायदा उठाया. वे इस दौरान न सिर्फ नीतीश सरकार के खिलाफ सियासी बयान देते रहे, बल्कि अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं को भी यह विश्वास दिलाते रहे कि लालू के बाद वही उनकी पार्टी के ‘नए नेता’ हैं. तेजस्वी यादव को अपनी इस कवायद का कितना राजनीतिक लाभ मिलता है, यह तो वक्त ही बताएगा, लेकिन फिलहाल देश व प्रदेश में इस युवा नेता की चर्चा तो जरूर होने लगी है.