नई दिल्ली: होम लोन देने वाली कंपनी एचडीएफसी ने ब्याज दर में 0.20 प्रतिशत की वृद्धि की है. यह अन्य कमर्सल बैंकों के कदम के अनुरूप है. यह अन्य वाणिज्यिक बैंकों के कदम के अनुरूप है. एक बयान में एचडीएफसी ने कहा कि खुदरा प्रधान उधारी दर (आरपीएलआर) में वृद्धि एक अप्रैल से प्रभावी होगी. कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा कि ब्याज दर में वृद्धि 0.05 प्रतिशत से 0.20 प्रतिशत तक है. कम राशि के कर्ज पर सबसे कम ब्याज दर बढ़ायी गयी है.

महिलाओं द्वारा लिये गये 30 लाख रुपये तक के कर्ज पर ब्याज दर अब 8.40 प्रतिशत होगी, जबकि अन्य के लिये यह 8.45 प्रतिशत किया गया है. प्रवक्ता के अनुसार 30 लाख रुपये से लेकर 75 लाख रुपये तक के कर्ज पर महिलाओं के लिये ब्याज दर 8.55 प्रतिशत तथा अन्य के लिये 8.60 प्रतिशत होगी. वहीं 75 लाख रुपये से अधिक के कर्ज पर महिलाओं के लिये ब्याज दर 8.65 प्रतिशत तथा अन्य के लिये 8.70 प्रतिशत होगी.

हालांकि रिजर्व बैंक ने नीतिगत दर में कोई वृद्धि नहीं की है लेकिन नकदी की कमी के कारण बैंक ब्याज दर बढ़ा रहे हैं. इससे पहले, एक्सिस बैंक, यस बैंक तथा कोटक महिंद्रा बैंक ने कोष की सीमांत लागत आधारित ब्याज दर में वृद्धि की थी. उसके बाद एसबीआई समेत अन्य बैंकों ने भी यह कदम उठाया.