नई दिल्ली: अगर आप उन लोगों में से एक हैं, जिन्हें इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म भरना मुश्किल लगता है, तो आपके लिए अच्छी खबर है. आयकर विभाग अब टैक्स रिटर्न फॉर्म को थोड़ा और आसान बनाते हुए कई पन्नों के फॉर्म को एक पन्ने में समेट दिया है. जी हां, अब इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म सिर्फ एक पन्नेे का होगा. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने साल 2018-19 के लिए नया आयकर रिटर्न (ITR) फॉर्म जारी कर दिया है. इसके अनुसार अब सिर्फ 1 पेज का ही रिटर्न फॉर्म होगा. इसका नाम आईटीआर फॉर्म-1 सहज है.

income tax

आप इस फॉर्म को https://www.incometaxindia.gov.in/Pages/downloads/income-tax-return.aspx से डाउनलोड कर सकते हैं.

क्या-क्या जानकारी देनी होगी
इस फॉर्म में कर्मियों को अपनी सैलरी का ब्रेकअप देना होगा. अगर आप कारोबारी हैं तो आपको GST नंबर और अपना टर्नओवर बताना होगा. बता दें कि 31 जुलाई तक इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना होता है. लेकिन इस बार अगर आप 31 जुलाई तक इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने से चूक जाते हैं तो तय तारीख के बाद रिटर्न भरने पर आपको पेनाल्टी देनी होगी.

यदि आपकी आय सालाना 50 लाख रुपये से कम है तो आप सहज आईटीआर फॉर्म भर सकते हैं. इस फॉर्म में मकान से होने वाली आय का लेखा जोखा भी आपको देना होगा.

CBDT के अनुसार कहा कि कुछ श्रेणी के करदाताओं को छोड़कर सभी सातों आईटीआर इलेक्ट्रॉनिक तरीके से दाखिल करने होंगे. पिछले वित्त वर्ष में तीन करोड़ लोगों ने इसका इस्तेमाल किया था.

CBDT के अनुसार जिन लोगों की आमदनी का स्रोत कारोबार या पेशे से है, उन्हें या तो आईटीआर- तीन या आईटीआर- चार फाॅॅर्म भरना होगा.