नई दिल्ली. केंद्र सरकार द्वारा संचालित पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) की मुंबई स्थित ब्रांच में कई फ्रॉड लेन-देन का पता चला है. बैंक ने ये जानकारी शेयर बाजार को दी है. इस जानकारी के मुताबिक ब्रांच में कुल 11,360 करोड़ रुपये के फ्रॉड लेन-देन को अंजाम दिया गया है. ऐसा मुंबई स्थित बैंक की एक ब्रांच से हुआ है. 

खाते में न्यूनतम बैलेंस न रखने वाले ग्राहकों से SBI ने वसूला 1,772 करोड़ रुपये का जुर्माना

खाते में न्यूनतम बैलेंस न रखने वाले ग्राहकों से SBI ने वसूला 1,772 करोड़ रुपये का जुर्माना

बैंक ने बताया है कि ये लेन-देन कुछ खाताधारकों की मर्जी से हुए हैं. इनका मकसद इन्हीं लोगों को फायदा पहुंचाना भी है. चूंकि ये सभी लेन-देन बैंक के जरिए ही हुए हैं इसलिए इसके जरिए विदेश में बैठे कस्टमर्स को एडवांस राशि देने की बात भी सामने आई है. इस मामले में बैंक ने 10 लोगों को सस्पेंड कर दिया है.

बैंक में इस धोखाधड़ी की बात सामने आने के बाद बैंक के शेयर भी लुढ़क गए. सुबह 10 बजे पीएनबी के शेयर 4.1 फीसदी लुढ़क गए. शुरुआती कारोबार के वक्त भी बैंक के शेयर 5.7 फीसदी तक कमजोर थे.

बता दें कि पीएनबी देश का दूसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक बैंक है. कुल संपत्ति का आकलन किया जाए तो यह चौथा बड़ा बैंक है. यहां अहम बात ये भी है कि बैंक ने फ्रॉड की जो जानकारी दी है उसमें उन खाताधारकों के नाम नहीं बताए गए हैं जिन्हें फायदा पहुंचाने की कोशिश की गई थी.