रायपुर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शनिवार को छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले के जांगला गांव में ‘‘आयुष्मान भारत योजना’’ का शुभारंभ करेंगे. इस दौरान वह उत्तर बस्तर को रेल सेवा की सौगात भी देंगे. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी के बीजापुर जिले में कार्यक्रम की सभी तैयारियां पूरी हो गई है. प्रधानमंत्री आंबेडकर जयंती के अवसर पर वहां विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे. निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार मोदी 14 अप्रैल को नई दिल्ली से भारतीय वायुसेना के एक विमान से सुबह 9.20 बजे रवाना होकर 11.30 बजे जगदलपुर (बस्तर) पहुंचेंगे और वहां से हेलीकॉप्टर द्वारा दोपहर 12.25 बजे जांगला पहुंचेंगे.

प्रधानमंत्री बनने के बाद चौथी बार आएंगे छत्‍तीसगढ़
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री के रूप में मोदी की यह चौथी छत्तीसगढ़ यात्रा होगी. वह इससे पहले नौ मई, 2015 को दंतेवाड़ा, 21 फरवरी 2016 को नया रायपुर और राजनांदगांव जिले के कुर्रूभाठ तथा राज्योत्सव के अवसर पर एक नवम्बर, 2016 को नया रायपुर आ चुके हैं. उनका इस बार का छत्तीसगढ़ प्रवास इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि उन्होंने देश के जिन 101 जिलों को विकास की अपार संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए आकांक्षी जिलों (एस्पीरेशनल जिलों) के रूप में चुना है, उनमें बीजापुर सहित छत्तीसगढ़ के दस जिले शामिल हैं. उन्होंने बीजापुर को मिलाकर बस्तर संभाग के सभी सात जिलों सहित राजनांदगांव, कोरबा और महासमुन्द को भी आकांक्षी जिलों की श्रेणी में शामिल किया है।

यह भी पढ़ें : कठुआ-उन्नाव गैंगरेप पर पीएम मोदी ने तोड़ी चुप्पी, कहा- इंसाफ मिलकर रहेगा

उत्‍तर बस्‍तर को मिलेगी रेल की सौगात
अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी कल बीजापुर जिले के जांगला में ‘‘आयुष्मान भारत योजना’’ का राष्ट्रीय स्तर पर शुभारंभ करेंगे. इस योजना के तहत भारत के दस करोड़ गरीब परिवारों को पांच लाख रूपए तक स्वास्थ्य बीमा की सुरक्षा मिलेगी. योजना के तहत बीमित परिवार के सदस्य शासन द्वारा चिन्हांकित अस्पतालों में गंभीर बीमारियों का निःशुल्क इलाज करवा सकेंगे. उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री इस मौके पर स्वास्थ्य विभाग के स्थानीय और विकासखंड स्तर के कार्यकर्ताओं से बातचीत करेंगे. प्रधानमंत्री इस दौरान बीजापुर जिले के जांगला सहित सात गांवों के लिए विभिन्न बैंक शाखाओं का भी शुभारंभ करेंगे. अधिकारियों ने बताया कि मोदी जांगला में उत्तर बस्तर की जनता को बालोद जिले के गुदुम गांव से भानुप्रतापपुर तक निर्मित रेल लाइन तथा यात्री ट्रेन की सौगात भी देंगे. दल्लीराजहरा से गुदुम तक 17 किलोमीटर रेल मार्ग का निर्माण और उस पर पैसेंजर ट्रेन का संचालन दो वर्ष पहले शुरू हो चुका है. प्रधानमंत्री द्वारा गुदुम से उत्तर कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर तक रेल परियोजना के लोकार्पण के साथ ही उत्तर बस्तर भी रेल सेवा से जुड़ जाएगा.

सीएम रमण सिंह, केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा भी होंगे मौजूद
उन्होंने बताया कि मोदी जांगला के कार्यक्रम में छत्तीसगढ़ सरकार की बस्तर नेट परियोजना के प्रथम चरण का लोकार्पण करेंगे. अधिकारियों ने बताया कि जांगला में जनसभा को सम्बोधित करने के बाद प्रधानमंत्री वहां से जगदलपुर आकर शाम चार बजे भारतीय वायुसेना के विमान से नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे. उन्होंने बताया कि जांगला में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता मुख्यमंत्री रमन सिंह करेंगे. वहीं केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री जगत प्रकाश नड्डा अति विशिष्ट अतिथि के रूप में कार्यक्रम में शामिल होंगे.

यह भी पढ़ें : कर्नाटक ओपिनियन पोल: कांग्रेस बनेगी सबसे बड़ी पार्टी, बीजेपी को मिलेंगी 78-86 सीटें

सुरक्षा के कड़े इंतजाम
इधर धुर नक्सल प्रभावित जिले में प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है. राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री के दौरे को देखते हुए क्षेत्र में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. प्रधानमंत्री के कार्यक्रम की सुरक्षा में अर्धसैनिक बलों, एसटीएफ, डीआरजी और जिला बल के जवानों को तैनात किया गया है. कार्यक्रम की सुरक्षा में स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप के जवान भी तैनात रहेंगे.

यह भी पढ़ें : छVideo: पीएम मोदी ने की मेट्रो की सवारी, लोगों ने खूब खिंंचवाई सेल्फी

10 हजार जवान, ड्रोन कैमरों की तैनाती
अधिकारियों ने बताया कि इस दौरान लगभग 10 हजार जवानों को क्षेत्र में तैनात किया गया है. ये जवान धुर नक्सल प्रभावित इस इलाके पर लगातार नजर रखेंगे. उन्होंने बताया कि जिले में बम निरोधी दस्ता और अन्य बल के जवान लगातार गश्त कर रहे है और नक्सल विरोधी कार्रवाई तेज कर दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि पुलिस कमांडो के दस्ते और अन्य पुलिस जवानों को सादी वर्दी में भी तैनात किया गया है. वहीं सीसीटीवी कैमरे, ड्रोन और मानव रहित विमान से भी क्षेत्र में नजर रखी जा रही है. क्षेत्र में नक्सलियों ने प्रधानमंत्री के बीजापुर यात्रा का विरोध किया है. इस संबंध में नक्सलियों ने पर्चे भी फेंके हैं.