फ़िल्मकार और एक्टर चार्ली चैपलीन की आज 129वीं जयंती है. आज वे दुनिया में नहीं हैं लेकिन उनकी कॉमेडी पर आज भी लोग ठहाके लगाते हैं. चार्ली चैपलिन का जन्म 16 अप्रैल 1889 को लंदन में हुआ था. उनका असली पूरा नाम चार्ल स्पेंसर चैपलिन था. अपनी जिंदगी में उन्हें कई दुखों का सामना करना पड़ा. 9 साल की उम्र से ही उन्होंने अपना घर खर्चा चलाने के लिए काम करना शुरू कर दिया था. बचपन में ही मां-बाप अलग हो गए. मां, ये सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाईं और उन्होंने अपना मानसिक संतुलन खो दिया. उन बुरे दिनों में चार्ली को अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़नी पड़ी और बेहद कम उम्र में स्टेज पर एक्टिंग करनी पड़ी. इसके ठीक बाद चैपलिन को अमरीकी फ़िल्म स्टूडियो के लिए चुना गया. यहां से चैपलिन दुनिया भर में मूक फ़िल्मों के बादशाह के रूप में उभरे. बॉलीवुड में भी कई मौकों पर और कई फिल्मों से सितारों ने चार्ली चैपलीन को ट्रिब्यूट दिया है. इतना ही नहीं सबके फेवरेट एक्टर अक्षय कुमार चार्ली चैपलिन की एक तस्वीर अपने पर्स में रखते हैं.

Related image

श्रीदेवी का ‘मिस्टर इंडिया’ में चार्ली चैपलिन एक्ट
श्रीदेवी ने फिल्म मिस्टर इंडिया के एक गाने में चार्ली चैपलिन का एक्ट किया था औऱ उनके साथ एक बच्चे ने भी इस तरह का किरदार निभाया था. श्रीदेवी का यह एक्ट चार्ली चैपलिन के लिए ट्रिब्यूट था. श्रीदेवी ने एक इंटरव्यू में बताया था कि इस फिल्म के निर्देश शेखर कपूर ने इस सीन को कुछ लंबा सोच कर नहीं फ़िल्माया था. स्क्रिप्ट में महज़ श्रीदेवी को चार्ली चैप्लीन के लुक में आना था और बस सीन पूरा किया जाना था. लेकिन जब शूट होने लगा तो सीन फ़िल्माने में शेखर को खूब मज़ा आया तो उन्होंने तय किया कि इसे और लंबा सीन बनायेंगे.

Related image

‘श्री 420’
बॉलीवुड एक्टर राज कपूर ने फिल्म ‘श्री 420’ में चार्ली चैपलीन की तरह एक्टिंग की थी. दर्शकों को उनका ये अंदाज बहुत पसंद आया था. इस फिल्म में उनकी एक्टिंग की वजह से उन्हें भारत का चार्ली चैपलिन कहा जाने लगा. राज कपूर, चार्ली चैपलिन के प्रशंसक थे और उनके अभिनय में चार्ली चैपलिन का पूरा पूरा प्रभाव पाया जाता था.

ranbir-charlie

रणबीर कपूर ने भी किया था चार्ली एक्ट
रणबीर कपूर ने भी फिल्म ‘अजब प्रेम की गजब कहानी’ के एक सीन में चार्ली चैपलिन का किरदार निभाया था यही नहीं फिल्म बर्फी में भी उनका अभिनय चार्ली चैपलीन से प्रभावित बताया गया था. बर्फी की तो इस बात के लिए काफी आलोचना भी हुई थी कि फिल्म के कई सीन चार्ली चैपलिन की फिल्मों से हूबहू कॉपी कर लिए गए हैं, लेकिन रणबीर की एक्टिंग को बर्फी में पसंद किया गया था.

पहली फिल्म
चार्ली चैपलिन की पहली फिल्म 1914 में आई ‘मेकिंग अ लिविंग’ थी जो एक साइलेंट फिल्म थी. उनकी पहली फुल लेंग्थ फीचर फिल्म 1921 में आई ‘द किड’ थी. चार्ली ने अपने जीवन में दोनों वर्ल्ड वॉर देखे थे और जिस समय दुनिया युद्ध की विभीषिका झेल रही थी तब वह लोगों को हंसा रहे थे. चार्ली चैपलिन ने एक बार कहा था, ‘मेरा दर्द किसी के हंसने की वजह हो सकता है. पर मेरी हंसी कभी भी किसी के दर्द की वजह नहीं होनी चाहिए.’

विवादों में चार्ली
चार्ली चैपलीन भी चाहकर विवादों से बच नहीं पाए. साल 1940 में आई उनकी फिल्म ‘द ग्रेट डिक्टेटर’ काफी विवादों में रही थी इस मूवी में उन्होंने अडोल्फ हिटलर का किरदार निभाया था. बाद में अमेरिका में उनके ऊपर कम्यूनिस्ट होने के आरोप भी लगाए गए और उनके ऊपर जांच बिठा दी गई थी. इसके बाद चार्ली ने अमेरिका छोड़ दिया और स्विट्जरलैंड में जाकर बस गए.

जवाहर लाल नेहरू को जबरन पिला दिया था शैंपेन का घूंट
विदेश सचिव रहे दिनशॉ गुंडेविया ने अपनी बायोग्राफी में लिखा है कि स्विट्जरलैंड में एक बार नेहरू जी को महान कॉमेडियन चार्ली चैपलिन ने अपने घर दावत पर बुलाया था. खाने से पहले चार्ली ने शैंपेन मंगवाई और नेहरू को ऑफर की. नेहरू जी ने इस पर कहा कि मैं नहीं पीता और यह आपको पता होना चाहिए. चार्ली ने फिर भी नेहरू के होठों से शैंपेन का गिलास लगा दिया. उस दौरान नेहरू ने एक सिप पी लिया और रात भर उस गिलास को अपने पास ही रख कर बैठे रहे.

चार्ली चैपलिन का वैवाहिक जीवन
चार्ली चैपलिन ने अपनी जिंदगी में कुल 4 शादियां की थीं. इन शादियों से उनके 11 बच्चे थे. चार्ली की ये शादियां काफी विवादों में भी रही थीं.सन 1943 में चैपलिन ने 18 साल की ‘ऊना ओ नील’ से शादी की, यह उनकी सफल शादी रही. इससे उनको 8 बच्चे हुए.

क़ब्र से शव चोरी

चार्ली चैपलिन का निधन 88 साल की उम्र में 1977 में क्रिसमस के दिन हुआ था. चैपलिन के दफ़्न होने के तीन महीने बाद उनकी क़ब्र से शव चोरी हो गया था. चोरों ने ऐसा उनके परिवार वालों से पैसा वसूलने के लिए किया था.

 

 

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें  India.com के साथ.