हाल ही में रिलीज़ हुई मधुर भंडारकर की फिल्म ‘इंदु सरकार’ के ट्रेलर को लोगों की अच्छी प्रतिक्रिया मिली. फिल्म 1975 में हुए इमरजेंसी की पृष्ठभूमि पर बनाई गयी है. मधुर भंडारकर की ये फिल्म 28 जुलाई को रिलीज़ होने वाली है लेकिन कांग्रेस ने ऐलान किया है कि वो इस फिल्म का विरोध करेंगे.

बता दें मधुर भंडारकर की फिल्म ‘इंदु सरकार’ अपने कंटेंट की वजह से सुर्ख़ियों में बनी हुई है. फिल्म में गांधी परिवार को जिस तरह से दिखाया गया है वो कुछ लोगों को पसंद नहीं आ रहा है. फिल्म के ट्रेलर में गांधी परिवार पर निशाना साधा गया है. कांग्रेस को आशंका है कि फिल्म में गांधी परिवार के दो सदस्य इंदिरा गांधी और राजीव गांधी को गलत तरीके से दिखा कर उनकी इमेज खराब की जा रही है.

कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के मुताबिक फिल्म में तथ्यों को गलत तरीके से पेश किया गया है और यह फिल्म विरोधियों की तरफ से प्रायोजित है. ये फिल्म एक छुपे हुए उद्देश्य से और खास इशारे पर बन रही है. लिहाजा कांग्रेस इसका विरोध करेगी.

इस फिल्म के बारे में बात करते हुए मधुर भंडारकर के कहा था “कुछ चीजों को साफ साफ कहने की जरूरत नही आपको जो सामने दिख रहा है वह आप समझ लें. हमारी फ़िल्म 30 प्रतिशत रियल है और 70 प्रतिशत काल्पनिक है. फ़िल्म में जो कीर्ति के किरदार की कहानी है वो काल्पनिक है लेकिन जो 75 से 77 तक की इमर्जेंसी और घटनाएं हैं वह रियल है”

बता दें, फिल्म का ट्रेलर हाल ही में रिलीज़ हुई जिसमें नील नितिन मुकेश राजीव गांधी की भूमिका में नज़र आ रहे हैं. फिल्म में सुप्रिया विनोद पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का किरदार निभा रही है. फिल्म कहानी है एक ऐसी महिला की जो इमरजेंसी के दौरान अपने पति को खो देती है. उसके पति को मार दिया जाता है जिसके बाद वो सरकार के खिलाफ अपनी आवाज़ उठाती है. सरकार के खिलाफ बोलने पर उसे जेल में बंद कर दिया जाता है और खूब प्रताड़ित किया जाता है लेकिन इसके बावजूद वो सिस्टम से लड़ती है. इस साहसी महिला के किरदार को निभाया है एक्ट्रेस कीर्ति कुल्हारी जिन्हें आखिरी बार अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘पिंक’ में देखा गया था.