सैनिटरी नैपकिन के बारे में एक नई बात एक्ट्रेस दिया मिर्जा ने बताई है. दिया ने कहा वो ऐसी किसी भी चीज का इस्तेमाल नहीं करना चाहती जिससे हमारे पर्यायवरण को नुकसान पहुंचे. यही नहीं बल्कि उन्होंने पीरियड में इस्तेमाल होने वाले सैनिटरी नैपकिन को लेकर भी एक बात बताई. दिया ने बताया सैनिटरी नैपकिन भी किस तरह पर्यावरण को प्रदूषित करता है. इसलिए उन्होंने सैनिटरी नैपकिन का इस्तेमाल करना बंद कर दिया है.

दिया मिर्जा ने कहा- एक एक्टर होने के नाते मेरा यह कहना बहुत बड़ी बात है क्योंकि हम सैनिटरी नैपकिन का प्रचार भी करते हैं. मुझे जब भी कभी सैनिटरी नैपकिन के प्रचार के लिए कोई ऑफर आता भी है तो मैं साफ इनकार कर देती हूं.’

अब सवाल ये है कि फिर दिया मिर्जा क्या इस्तेमाल करती हैं. वो 100 प्रतिशत प्राकृतिक रूप से नष्ट होने वाले बायोडिग्रेडबल नैपकिन का इस्तेमाल करती है. दिया ने बताया, हमारे देश में सदियों से महिलाएं पीरियड्स के दिनों में कॉटन का उपयोग करती थीं, लेकिन अब वक्त बदल चुका है. कई नई तकनीक आ चुकी हैं जिसकी वजह से ऐसी चीजें बनाई गईं हैं जिससे पयार्यवरण को कम से कम नुकसान पहुंचे. उन्होंने सभी महिलाओं से अपील की कि वो भी अब बायोडिग्रेडबल नैपकिन का ही इस्तेमाल करें.

आपको बता दें भारत की ओर से सयुंक्त राष्ट्र पर्यावरण सद्भावना दूत नियुक्त की गई दिया मिर्जा हमेशा से ही पर्यावरण और प्रदूषण को लेकर बातें करती रही हैं. वो इनसे जुड़े कार्यक्रमों में भी बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेती रही हैं. सयुंक्त राष्ट्र पर्यावरण सद्भावना दूत नियुक्त किए जाने के बाद हाल ही में उन्होंने पर्यावरण की सुरक्षा पर बातचीत की.