करण जौहर और कंगना रनौत के बीच का विवाद किसी से छुपा हुआ नहीं है. ‘कॉफ़ी विद करण’ में कंगना ने करण पर कुछ ऐसे सवाल उठाए जिससे खूब हंगामा मचा. कंगना ने करण पर उनके ही शो में ये इलज़ाम लगाया कि वो नेपोटिज्म यानी परिवारवाद को बढ़ावा देते हैं. करण, कंगना की बातों से काफी नाराज़ हुए और ये तक कह डाला था कि उन्हें इंडस्ट्री छोड़ देनी चाहिए. करण जौहर, सैफ अली खान और वरुण धवन ने एक अब एक बार फिर नेपोटिज्म के मुद्दे को उछाला है और कंगना का जम कर मज़ाक भी उड़ाया.

आईफा अवार्ड्स के होस्ट करण और सैफ ने इस विवादित मुद्दे को उछालने में कोई कसर नहीं छोड़ी. स्टेज पर जब वरुण धवन फिल्म ‘ढिशूम’ के लिए बेस्ट कॉमिक एक्टर का अवार्ड लेने पहुंचे तो सैफ ने मजाक में कहा कि वरुण फिल्म इंडस्ट्री में आज इस मुकाम पर अपने पिता (डेविड धवन) की वजह से हैं. सैफ ने चुटकी लेते हुए कहा, “तुम यहां अपने पापा की वजह से हो.”

ये सुनकर वरुण भी कहां चुप रहने वालों में से थे. उन्होंने भी कह दिया, “और आप यहां अपनी मम्मी (शर्मिला टैगोर) की वजह से हैं.” इस पर करण ने तुरंत कहा, “मैं यहां अपने पापा (यश जौहर) की वजह से हूं.”. इसके बाद तीनो एक साथ जोर से चिल्लाने लगे ‘नेपोटिज्म रॉक्स’

वरुण ने फिर करण पर मजाक में निशाना साधने में कोई कसर नहीं छोड़ी और कहा, “आपकी फिल्म में एक गाना है, “बोले चूड़ियां, बोले कंगना”. जिस पर चुटकी लेते हुए करण ने कहा, “कंगना ना ही बोले तो अच्छा है…कंगना बहुत बोलती हैं.”

बता दें, करण और कंगना के बीच बात बंद है.