नए दौर की डिजाइनर मसाबा गुप्ता को ट्रोल किया गया है और उन्हें ‘नाजायज वेस्ट इंडियन’ तक कहा गया. डिजाइनर ने पटाखे छुड़ाने पर प्रतिबंध लगाए जाने का समर्थन किया था, जिसके बाद वह निशाने पर आ गईं और उन्हें काफी भला-बुरा कहा गया.

इस पर मसाबा ने कहा है कि उन्हें भारतीय-कैरेबियाई मूल की महिला होने पर गर्व है. अभिनेत्री नीना गुप्ता और वेस्ट इंडीज के दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी विवियन रिचर्ड्स की बेटी मसाबा ने बुधवार को इंस्टाग्राम के जरिए एक खुला पत्र साझा किया.

उन्होंने लिखा, “हाल ही में सर्वोच्च न्यायालय द्वारा पटाखे छुड़ाने पर प्रतिबंध लगाने के फैसले का स्वागत करने और देश के अन्य मुद्दों की तरह चाहे वह छोटे या बड़े हो उनका समर्थन करने के लिए मुझे री-ट्वीट किया गया..ट्रोलिंग करने और भला-बुरा कहने का सिलसिला शुरू हो गया.”

उन्होंने कहा, “मुझे ‘नाजायज वेस्ट इंडियन’ कह कर गाली देने से मेरा सीना सिर्फ गर्व से फूलता है. मैं दो सबसे वैध व्यक्तित्वों की अवैध संतान हूं और मैंने निजी तौर पर और पेशेवर तौर पर भी अपने जीवन को सबसे अच्छा बनाया है.”

डिजाइनर ने कहा कि 10 साल की उम्र से वह यह सब सुनते आ रही हैं, और उन्हें इसकी आदत हो गई है.

मसाबा ने यह भी कहा कि उन्हें अपनी जड़ों पर गर्व है. उन्होंने आगे कहा, “..इसलिए, कृपया आगे बढ़िए और अगर इससे आपको अच्छा महसूस होता है मुझे भला-बुरा कहते रहिए, लेकिन इतना जान लें कि मुझे एक भारतीय-कैरेबियाई महिला होने पर गर्व है.”

–आईएएनएस