अभिनेत्री और निर्देशक पूजा भट्ट ने कहा है कि ‘सड़क 2’ उनकी 1991 में आई हिट फिल्म ‘सड़क’ की अगली कड़ी होगी, जो अवसाद विषय पर आधारित है. पूजा विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस समारोह में मौजूद थीं, जहां वह पुरस्कार विजेता फिल्म ‘द वैली’ के बारे में लोगों को बता रही थीं.

पूजा ने कहा, “हम ‘सड़क 2’ बना रहे हैं, जिसमें हम संजय दत्त को उनके वास्तविक और वर्तमान समय (संजय दत्त नशीली दवाओं की लत) में दिखा रहे हैं, इसलिए हम उस फिल्म में अवसाद के मुद्दे पर काम कर रहे हैं, लेकिन हम एक व्यावसायिक फिल्म बना रहे हैं.”

महेश भट्ट ने ‘सड़क’ का निर्देशन किया था, जो 1991 में रिलीज हुई थी, जिसमें संजय दत्त ने एक युवक का किरदार निभाया था, जो एक वैश्या (पूजा भट्ट द्वारा निभाया) से प्यार करता है और उसके साथ रहने के लिए सभी बाधाओं से लड़ता है.

बॉलीवुड के हाल के रुझानों, जहां फिल्मी सितारों की तुलना में सामग्री वाली फिल्में बॉक्स-ऑफिस पर ज्यादा काम कर रही हैं, के बारे में पूजा ने कहा, “दर्शक हमेशा स्मार्ट रहे हैं. हम, जो खुद को उद्योग के विशेषज्ञ कहते हैं, माना जाता है कि दर्शकों को कम आंकते हैं और कहते हैं कि वे मुद्दे-आधारित फिल्म देखने के लिए तैयार नहीं हैं.”

उन्होंने कहा, “आज, दर्शक और फिल्म निर्माता के साथ कोई समस्या नहीं है, लेकिन मुझे लगता है कि फिल्म निर्माण विपणन का एक खेल बन गया है.”

पूजा द्वारा निर्मित अंतिम फिल्म ‘कैबरे’ है, जिसमें रिचा चड्ढा और गुलशन देवया मुख्य भूमिका में हैं. यह फिल्म 2016 में रिलीज होने वाली थी, लेकिन यह अभी तक रिलीज नहीं हो पाई है.