मुंबई। ज्वैलरी डिजाइनर नीरव मोदी के एक विज्ञापन में दिखने वाली अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ब्रांड के साथ अनुबंध खत्म करने के लिए कानूनी सलाह लेने के बारे में सोच रही हैं. यह बात गुरुवार को अभिनेत्री के प्रवक्ता ने कही. प्रचार के लिए कथित तौर पर बकाया राशि का भुगतान नहीं करने के लिए ब्रांड के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की खबरों पर प्रियंका के प्रवक्ता ने कहा कि इस तरह के कयास हैं कि प्रियंका चोपड़ा ने नीरव मोदी पर मुकदमा किया है. यह सच नहीं है. बहरहाल नीरव मोदी के खिलाफ वित्तीय धोखाधड़ी के आरोपों के बाद ब्रांड के साथ अनुबंध खत्म करने को लेकर वह कानूनी राय ले रही हैं.

उसी विज्ञापन में प्रियंका के साथ दिखने वाले अभिनेता सिद्धार्थ मल्होत्रा ने बताया कि चूंकि ब्रांड के साथ उनका अनुबंध खत्म हो गया है इसलिए वह कानूनी कार्रवाई की योजना नहीं बना रहे हैं.

Nirav Modi. Pic: DD News

बता दें कि हीरे के इस विज्ञापन में प्रियंका चोपड़ा के अलावा सिद्धार्थ मल्होत्रा भी नजर आए थे. वैसे बॉलीवुड के कई सितारे नीरव मोदी के ब्रांड से जुड़े हैं. नीरव के ज्वेलरी स्टोर भारत सहित लंदन, न्यूयॉर्क, लास वेगास, हवाई, सिंगापुर, बीजिंग जैसे 16 शहरों में है. नीरव ने 2010 में अपने नाम से डायमंड कंपनी बनाई थी.

कौन है नीरव मोदी?

48 वर्षीय नीरव मोदी हीरा कारोबारियों के परिवार से है. वह एंटवर्प में पला-बढ़ा जिसे दुनिया की हीरा राजधानी कहा जाता है. वह फाइनेंस की पढ़ाई करने व्‍हार्टन गया था, लेकिन 19 साल की उम्र में भारत लौट आया और अपने चाचा से हीरा कारोबार की बारीकियां सीखीं. 1999 में उसने फायरस्‍टोन कंपनी की शुरुआत की. बाद में कंपनी का नाम बदलकर फायरस्‍टार किया गया. फिलहाल इस कंपनी का कुल रेवेन्‍यू 2.3 अरब डॉलर है. 2010 में उसने नीरव मोदी ब्रांड की शुरुआत की. इस ब्रांड के दिल्‍ली, मुंबई, न्‍यूयॉर्क, लंदन सहित प्रमुख शहरों में 16 स्‍टोर हैं.

नीरव मोदी फरार

खबरों की मानें तो नीरव इस समय देश में नहीं हैं. 11,300 करोड़ रुपये के इस फर्जीवाड़े में सीबीआई ने भी 31 जनवरी को एक प्राथमिकी दर्ज की थी. शराब कारोबारी विजय माल्या की तरह किसी घोटाले के आरोपी के इस तरह फरार हो जाने को लेकर राजनीति गरमा गई है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदपी सुरजेवाला ने अपने टि्वटर अकाउंट पर इससे संबंधित सवाल उठाते हुए कहा है कि क्या ललित मोदी और विजय माल्या की तरह नीरव मोदी को भी एफआईआर से पहले सूचना दे दी गई थी. इस बारे में कांग्रेस प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगी. बता दें कि आरोपी नीरव मोदी के घर और दफ्तरों पर प्रवर्तन निदेशालय छापेमारी कर रही है.

पीेएनबी के साथ धोखाधड़ी मामले में आरोपी हीरा कारोबारी नीरव मोदी.

इससे पहले निदेशालय ने मोदी और अन्‍य आरोपियों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था. पंजाब नेशनल बैंक में 11 हजार करोड़ रुपए से ज्‍यादा के घोटाले में आरोपी नीरव मोदी के घर और दफ्तरों पर प्रवर्तन निदेशालय छापेमारी कर रही है. इससे पहले निदेशालय ने मोदी और अन्‍य आरोपियों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था.

nirav-modi

जांच एजेंसी को दो शिकायतें मिलीं
सीबीआई को करीब 11,000 करोड़ रुपये के संदिग्ध लेनदेन के बारे में डिजाइनर नीरव मोदी तथा एक ज्वेलरी कंपनी के खिलाफ पीएनबी से दो शिकायतें मिलीं. सूत्रों ने बताया कि एजेंसी को संदिग्ध लेनदेन के बारे में मंगलवार देर रात को शिकायतें मिलीं. इस संदिग्ध लेनदेन का पता सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ने लगाया था. उन्होंने बताया कि संदिग्ध लेनदेन बैंकों की शाखाओं से किए जाने की शिकायतें मिलीं और यह लेनदेन 11,000 करोड़ रुपये से अधिक का था.

भाषा इनपुट