मुंबई: बॉलीवुड फिल्म शोले से एक अलग पहचान बनाने वाले राज किशोर का शुक्रवार सुबह हार्ट अटैक से निधन हो गया. 85 साल के राजकिशोर ने गुरुवार रात 1.30 बजे मुंबई स्थित अपने घर पर अंतिम सांस ली. राज किशोर ने शोले में एक अहम किरदार निभाया था जो दर्शकों को आजतक बखूबी याद है. उनका अंतिम संस्कार शुक्रवार सुबह 10:30 बजे किया गया.

राज किशोर को शोले में जेलर बने असरानी से नजरे मिलाते हुए देखा गया था. इसके अलावा पूरी फिल्म में उन्होंने अपनी एक्टिंग के दम पर दर्शकों पर एक अमिट छाप छोड़ी. राज किशोर ने पड़ोसन, दीवार हरे राम हरे कृष्ण, राम और श्याम, बॉम्बे टू गोवा, करन अर्जुन और भी कई कई फिल्मों में काम किया था.

1975 में रिलीज हुई फिल्म शोले भारतीय सिनेमा की बड़ी हिट्स में से एक है. फिल्म का निर्माण रमेश सिप्पी ने किया था. इसकी कहानी जय (अमिताभ बच्चन) और वीरू (धर्मेन्द्र) नामक दो अपराधियों पर केन्द्रित है जिसे डाकू गब्बर सिंह (अमजद खान) से बदला लेने के लिए पूर्व पुलिस अफसर ठाकुर बलदेव सिंह (संजीव कुमार) अपने गांव लाता है. इसमें जया भादुरी और हेमा मालिनी ने भी मुख्य भूमिका निभाई है. 2005 में 50वें फिल्मफेयर पुरस्कार समारोह में इसे पचास सालों की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का पुरस्कार मिला था.