‘पेरिल्स ऑफ बीइंग मॉडरेटली फेमस’ की लेखिका और अभिनेत्री सोहा अली खान का मानना है कि बहुत संवेदनशील लोगों को बॉलीवुड में नहीं आना चाहिए. मुंबई में शुक्रवार को ‘द मिस फेसिना 2018’ के ग्रांड फिनाले में शिरकत करने आईं सोहा से जब पूछा गया कि मॉडल्स को क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए, तो उन्होंने कहा, “मैं मॉडलिंग के बारे में बहुत कुछ नहीं कह सकती, लेकिन मैं अभिनय के बारे में कह सकती हूं. बहुत संवेदनशील लोगों को बॉलीवुड का हिस्सा नहीं बनना चाहिए. यहां आपको ढेर सारी आलोचनाएं झेलनी पड़ती हैं, और इसलिए आपकी चमड़ी मोटी होनी चाहिए.”

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड में छाने वाली है जूनियर कैफ !! इस एक्टर के साथ जल्द करेेंगी डेब्यू

उन्होंने कहा, “सोशल मीडिया पर आपके बारे में हर प्रकार की बयानबाजी होती है. अगर आप बहुत संवेदनशील हैं तो ऐसे बयान पढ़ते ही आप टूट जाते हैं.” मिस फेसिना 2018 से जुड़ाव पर सोहा ने कहा कि उभरती प्रतिभाओं का सहयोग करना उन्हें अच्छा लगता है. इस दौरान पति कुणाल खेमू के साथ सोहा ने देश के प्रसिद्ध एडवोकेट राम जेठमलानी के जीवन पर आधारित फिल्म के निर्माण से निर्माण क्षेत्र में उतरने की घोषणा की.

यह भी पढ़ें: तो इस वजह से महात्मा गांधी के सिद्धांतों को फॉलो करती हैं कंगना रानौत

फिल्म के कलाकारों के बारे में सोहा ने कहा, “राम जेठमलानी नौ दशक पूरे कर चुके हैं और फिल्म में उनके किस समय की कहानी दिखाई जाएगी, इस पर काम चल रहा है. कहानी निश्चित होने के बाद कलाकारों का चयन किया जा सकेगा. मेरे दिमाग में कुछ नाम हैं, लेकिन सब निर्देशक पर निर्भर है.” सोहा फिलहाल तिग्मांशू धूलिया निर्देशित फिल्म ‘साहेब, बीवी और गेंगस्टर 3’ में संजय दत्त, जिम्मी शेरगिल, माही गिल और चित्रांगदा सिंह के साथ नजर आने वाली हैं. यह फिल्म जुलाई 2018 में सिनेमाघरों में आ सकती है.