साउथ इंडस्ट्री की स्ट्रगलर एक्ट्रेस श्री रेड्डी आजकल सुर्खियों में हैं. श्री ने 7 अप्रैल शनिवार की सुबह हैदराबाद के फिल्म चेम्बर ऑफ कॉमर्स के ऑफिस के बाहर टॉपलेस होकर अपना विरोध दर्ज कराया. श्री ने खुलेआम अपने कपड़े उतार कर तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री में फैले कास्टिंग काउच के विरोध में ये सब किया. इस दौरान श्री ने कई सनसनीखेज खुलासे भी किए. इंडिया टुडे को दिए एक इंटरव्यू में रेड्डी ने बताया टॉलीवुड में तेलुगु अभिनेत्रियों को काम करना का मौका नहीं दिया जाता सिर्फ उत्तर भारतीय अभिनेत्रियां ही दिखाई देती है. ऐसा क्यों है? बहुत से लोगों का कहना है कि वो अभिनेत्रियां रोल पाने के लिए साथ सोने के लिए तैयार हो जाती हैं इसलिए उन्हें फेवर किया जाता है. तेलुगु अभिनेत्रियों के साथ यौन शोषण किया जाता है लेकिन बावजूद इसके उन्हें काम नहीं दिया जाता और सवाल करने पर धमकियां दी जाती हैं और कहा जाता है जो भी हुआ वो तुमने अपनी मर्जी से किया.

श्री ने दावा किया कि सिर्फ चार परिवारों के प्रभाव से पूरा टॉलीवुड चलता है इसलिए बाहर वालों को काम करने का मौका नहीं दिया जाता. उन्होंने बताया कि कई निर्माताओं ने फिल्म में रोल देने के पहले उनसे न्यूड फोटो और वीडियो की डिमांड की जो उन्होंने पूरी की. कई ने तो लाइव न्यूड वीडियोज़ की भी डिमांड की. उन निर्माताओं ने वीडियो देख लिए और अपना वादा नहीं निभाया. श्री ने कहा, ये विरोध सिर्फ मेरे लिए नहीं बल्कि उन सभी स्ट्रगलर अभिनेत्रियों के लिए है जो प्रतिभा होने के बावजूद काम नहीं कर पातीं.

श्री ने इंडिया टुडे को दिए इंटरव्यू में कहा, ‘मैं एक पीड़ित हूं, एक फिल्म निर्माता के बेटे ने स्टूडियो में मेरा इस्तेमाल किया. स्टूडियो सरकारी है जो कि उस लड़के को दिया गया है. ‘ श्री रेड्डी ने यह भी सवाल उठाया कि आखिर सरकार स्टूडियो क्यों दे रही है. श्री रेड्डी के इस आरोप पर फिल्मकार राम गोपाल वर्मा ने ट्वीट किया, “श्री रेड्डी नेशनल सेलेब्रिटी बन गईं हैं. मुंबई में जो लोग पवन कल्याण (दक्षिण भारत के मशहूर अभिनेता) के बारे में नहीं जानते, श्री रेड्डी के बारे में बात कर रहे हैं.”

बता दें, श्री रेड्डी ने आरोप लगाते हुए कहा था, ‘वह मुझे स्टूडियो में ले जाया करता था और मेरे साथ सेक्स करता था. वह तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री पर राज करने वाले एक फेमस निर्माता का बेटा है. वह मुझे स्टूडियो आने के लिए कहता था और मैं कहती थी कि मैं केवल बात करने आऊंगी, न कि किसी सेक्सुअल एक्ट के लिए. लेकिन वहां पहुंचने के बाद वह मुझ पर दबाव बनाता था.’ ‘सेक्स के लिए स्टूडियो सबसे सुरक्षित जगह होती है. बड़े निर्देशक, निर्माता और एक्‍टर स्टूडियो को जिस्मफरोशी के अड्डे की तरह इस्तेमाल करते हैं.

 

बॉलीवुड और मनोरंजन जगत की ताजा ख़बरें जानने के लिए जुड़े रहें India.com के साथ.