‘मी-टू’ कैम्पेन को 2017 का टाइम पर्सन ऑफ ईयर चुना गया है. ऐसा पहली बार हुआ है जब प्रतिष्ठित टाइम मैगजीन ने अमेरिका में पहले कभी भी हुए यौन शोषण का खुलासा करने वालों को सम्मानित किया है. उसने इन्हें ‘द साइलेंस ब्रेकर्स’ नाम दिया है. इस सूची में डोनाल्ड ट्रंप दूसरे स्थान पर हैं और उनके बाद चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग का नाम रहा है.

आपको बता दें टाइम द्वारा पहचाने गये लोगों में अभिनेत्री एश्ले जुड का नाम भी शामिल रहा जो वींसटाइन के खिलाफ यौन शोषण का आरोप सार्वजनिक करने वाली पहली अभिनेत्री थी. इस कैंपेन के जरिए हॉलीवुड में ही नहीं बल्कि बॉलीवुड में भी महिलाओं ने अपने साथ होने वाले यौन शोषण के खिलाफ जमकर आवाज उठाई. 

#metoo: बेटी ने कविता के जरिए सुनाया पिता की हवस का दर्द, उस रात मच्छरदानी में क्या हुआ था?

#metoo: बेटी ने कविता के जरिए सुनाया पिता की हवस का दर्द, उस रात मच्छरदानी में क्या हुआ था?

फेमस कॉमेडियन मल्लिका दुआ के साथ-साथ कई अभिनेत्रियां इस कैंपन से जुड़ी थी. मल्लिका ने बचपन में हुए यौन शोषण का दर्द सबके साथ अनुभव किया था. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट डाली जिसमें उन्होंने बताया कि ‘ मैं भी… अपनी खुद की कार में. मेरी मां कार चला रही थीं जबकि वह हमारे साथ पीछे बैठा था और पूरे समय उसका हाथ मेरी स्‍कर्ट में था.

#MeToo:टीवी एक्‍ट्रेस मुनमुन दत्ता ने लिखा, 'वो अंकल मुझे अकेले देखते ही बांहों में जकड़ लेते थे'

#MeToo:टीवी एक्‍ट्रेस मुनमुन दत्ता ने लिखा, 'वो अंकल मुझे अकेले देखते ही बांहों में जकड़ लेते थे'

मैं सिर्फ 7 साल की थी और मेरी बहन 11 साल की. उसका हाथ मेरी स्‍कर्ट के अंदर था और मेरी सिस्‍टर की पीठ पर था. मेरे पिता ने, जो उस समय दूसरी कार में थे, उसका मुंह तोड़ दिया क्‍योंकि उसी रात उन्‍होंने उसे रंगे हाथों पकड़ लिया था.’