एफएम चैनल पर एक चैट शो में करण जौहर से बाचतीत में एक्ट्रेस विद्या बालन और वाणी कपूर ने पर्सनल लाइफ से जुड़ी कई बातें शेयर की. रैपिड फायर राउंड के दौरान जब करण जौहर ने विद्या बालन ने पूछा आपको बेडरूम में खुली लाइट्स पसंद है या बंद?? जवाब में विद्या ने कहा, उन्हें हल्की रोशनी पसंद है. उसके बाद करण ने पूछा- संगीत या मोमबत्तियां? तो विद्या ने जवाब दिया- दोनों. करण ने बेडशीट्स के बारे में भी पूछा- कॉटन या सिल्क? विद्या ने कहा, कॉटन हमेशा. करण ने पूछा- काम खत्म होने के बाद चॉकलेट, ग्रीन टी या फिर क्या लेती हैं. विद्या ने जवाब में कहा, पानी! प्यास बुझाते बुझाते और प्यास लगने लगती है.

Why do i feel i belong … in black n white ?!! 🙂

A post shared by Vidya Balan (@balanvidya) on

यही सवाल जब करण ने वाणी कपूर से पूछे तो वाणी ने जवाब दिया कि उन्हें रॉन्सी म्यूजिक पसंद है. जहां तक बात थी बेडशीट्स के टाइप की तो वाणी ने कहा कि उन्हें सिल्क शीट्स पसंद हैं.

A post shared by VK (@_vaanikapoor_) on

बता दें, विद्या बालन के अभिनय को इंडस्ट्री ने हमेशा सराहा है. परिणीता, ‘कहानी, डर्टी पिक्चर, कहानी-2, तुम्हारी सुलु जैसी फिल्मों से बॉलीवुड में धाक जमाने वाली अभिनेत्री विद्या बालन अपनी फिल्म की सफलता के लिए किसी लोकप्रिय पुरुष कलाकार की मोहताज नहीं हैं. विद्या के लिए फिल्मों में करियर बनाने की राह आसान नहीं थी. मलयालम और तमिल फिल्मों में कई प्रयासों के बाद भी वह असफल रहीं. विद्या को बांग्ला फिल्म भालो थेको से पहचान मिली.साल 2007 में आई प्रियदर्शन की फिल्म भूल-भुलैया उनके करियर के लिए नया मोड़ साबित हुई. इसमें निभाए गए अवनी के किरदार की आलोचकों ने भी प्रशंसा की. इसके बाद 2009 में आई पा और विशाल भारद्वाज की इश्किया ने उन्हें बेस्ट ऐक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवॉर्ड दिलाया. यहां से विद्या के लिए सफलता के रास्ते खुल गए. एक नज़र देखिए फिल्म तुम्हारी सुलु के लिए विद्या बालन से इंडिया.कॉम की खास बातचीत

साल 2007 में आई प्रियदर्शन की फिल्म भूल-भुलैया उनके करियर के लिए नया मोड़ साबित हुई. इसमें निभाए गए अवनी के किरदार की आलोचकों ने भी प्रशंसा की. इसके बाद 2009 में आई पा और विशाल भारद्वाज की इश्किया ने उन्हें बेस्ट ऐक्ट्रेस का फिल्मफेयर अवॉर्ड दिलाया. यहां से विद्या के लिए सफलता के रास्ते खुल गए.