पिछले कुछ सालों में भारतीय पुरुषों में समय से पहले ही बाल झड़ने की समस्या में वृद्धि हुई है। बाल झड़ने की शिकायत करने वाले हर 10 लोगों में से करीब आठ पुरुष होते हैं। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के मुताबिक, 20 और 30 वर्ष से ऊपर की आयु वाले युवाओं की एक बड़ी तादाद ऐसी है जो बाल उगाने वाली सर्जरी कराना पसंद करते हैं।

किसी व्यक्ति के दिन में यदि 50 से 100 बाल झड़ते हैं तो यह एक सामान्य बात है। लेकिन इससे अधिक बाल गिरना इस बात का संकेत देता है कि सब कुछ ठीक नहीं है। इस कंडीशन को एलोपेसिया कहते हैं। समय से पहले बालों के झड़ने के लिए जिम्मेदार कारकों में प्रमुख हैं- मानसिक तनाव, धूम्रपान, मदिरा पान, प्रदूषण और अच्छी खुराक की कमी है।

आईएमए के अध्यक्ष डॉ. के.के. अग्रवाल ने कहा, “एलोपेसिया आमतौर पर आनुवांशिक होता है। हालांकि, आज जीवनशैली में परिवर्तन और तनाव के कारण भी युवक इस समस्या में फंस रहे हैं। बाल गिरने के पीछे अत्यधिक मानसिक या शारीरिक तनाव भी एक बड़ा कारण है। शरीर से आमतौर पर तीन महीनों के अंतराल के बाद बाल गिरते हैं। इसके अलावा, कुछ बीमारियां जो कि विषैले खाद्य पदार्थो से होती है, उनकी वजह से भी बाल गिर सकते हैं।”

उन्होंने कहा, “तनाव से भरी नौकरी और जंक फूड की खपत से बाल गिरने लगते हैं। इनमंे पोषक तत्वों और फाइबर का अभाव होता है। पर्याप्त मात्रा में पानी न पीने, धूम्रपान करने और अल्कोहल के अधिक सेवन से भी समय से पहले बालों का झड़ना शुरू हो जाता है।”

डॉ. अग्रवाल ने कहा कि बालों की मजबूती के लिए पोषण महत्वपूर्ण है। अस्थि मज्जा को छोड़कर, मानव शरीर का कोई अन्य हिस्सा प्रति माह आधा इंच की गति से नहीं बढ़ता। इसलिए बालों को सही पोषण प्रदान करना महत्वपूर्ण है।

उन्होंने बताया, “जब तक समस्या गंभीर नहीं हो जाती और उपचार की आवश्यकता नहीं होती, तब तक जीवनशैली में परिवर्तन लाकर बालों की समस्या को 80 प्रतिशत तक कम किया जा सकता है। जीवनशैली में साधारण से बदलाव लाकर ऐसा किया जा सकता है, जैसे कि सात घंटे की गहरी नींद, पीने का पर्याप्त पानी, और प्रोटीन युक्त आहार का सेवन।”

समय से पहले बालों का झड़ना रोकने के कुछ उपाय –

* सिर की गुनगुने तेल के साथ मालिश करें। इससे ब्लड सर्कुलेशन अच्छा रहता है और बालों के रोम छिद्र खुले रहते हैं।

* योग और ध्यान जैसी तकनीकों के माध्यम से तनाव कम करने की कोशिश करें। तनावपूर्ण परिस्थितियों से बचें। तनाव हार्मोन, जैसे कि एपिनेफ्रीन और कोर्टिसोल, बालों के प्राकृतिक विकास में हस्तक्षेप करते हैं।

* ताजे फल और सब्जियां खाएं, क्योंकि वे स्वस्थ बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद करती हैं। लोहे, जस्ता, प्रोटीन और ओमेगा 3 फैटी एसिड से भरपूर भोजन का उपभोग करें।

* धूम्रपान करने और एल्कोहल पीने से बचें।