ह्यूस्टन: वैज्ञानिकों का कहना है कि कई प्रकार के कैंसर में पाये जाने वाले आपस जुड़े जीन को लक्षित करने वाली अपनी तरह की पहली दवा का परीक्षण किया गया है जो कि 93 प्रतिशत बाल रोगियों के लिए सुरक्षित और प्रभावी पाई गई है. कैंसर की ज्यादातर दवाएं शरीर में विशिष्ट अंगों या स्थानों पर असर करती है.

लाराटैक्टिनिब कैंसर की ऐसी पहली दवा है जिसे अमेरिकी खाद्य एंव औषधि प्रशासन (एफडीए) ने इसे एक बड़ी सफलता के रूप में मान्यता दी है. यह दवा बच्चों के लिए सुरक्षित और प्रभावशाली पाई गई है. अमेरिका में टेक्सास विश्वविद्यालय के सहायक प्रोफेसर टेड लाट्सच ने कहा कि कुछ कैंसर में टीआरके जीन का एक हिस्सा एक और जीन से जुड़ी होता है, जिसे फ्यूजन कहा जाता है.

उन्होंने कहा, “जब ऐसा होता है, तो यह टीआरके जीन की ओर जाता है और यह कोशिकाओं के अनियंत्रित रूप से बढ़ने का कारण बनता है.” लारोटैक्टिनिब टीआरके फ्यूजन पर असर डालती है, जो कैंसर के कई प्रकारों में पाया जा सकता है. (इनपुट-भाषा)