नई दिल्लीः पिछले कुछ दिनों से देश में बच्चियों को निशाना बनाया जा रहा है. उनके साथ रेप और मर्डर की घटनाएं सामने आ रही हैं. देश के लोग पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए सड़कों पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. बेटी बचाओ का नारा नए सिरे से गूंज रहा है. ऐसे में केरल से मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है.

केरल के एक क्लिनिक में दो दिन की बच्ची को टॉयलेट में फ्लश करने का मामला सामने आया है. घटना उस समय सामने आई जब पलक्कड़ में अब्दुल रहमान की क्लिनक का टॉयलेट जाम हो गया. सफाई के दौरान प्लंबर को घटना का पता चला. इसके बाद डॉ. अब्दुल रहमान ने पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई.

खबरों के मुताबिक क्लिनिक में काम करने वाली महिला ने टॉयलेट जाम होने की शिकायत की थी. इसके बाद सफाई के लिए प्लंबर को बुलाया गया. शुक्रवार को सफाई के दौरान प्लंबर ने नोटिस किया कि कमोड में बॉल की तरह की कोई चीज फंसी हुई है. उसने ध्यान से देखा तो बच्ची का शव फंसा हुआ था. बताया जा रहा है कि बच्ची के शव के साथ गर्भनाल जुड़ा हुआ था. पुलिस को शक है कि डॉक्टर को दिखाने आए दंपत्ति ने बच्ची को टॉयलेट में फ्लश किया है.

पुलिस सूत्रों ने कहा कि डॉक्टर को दिखाने आए कुछ लोगों पर शक है. उन्हीं में से किसी ने बच्ची को फ्लश कर दिया होगा. हालांकि फिलहाल जांच जारी है. पुलिस का कहना है कि बच्ची के शव से गर्भनाल जुड़ा हुआ था. उस महिला का पता लगाने की कोशिश की जा रही है जिसने क्लिनिक में बच्ची को जन्म दिया. पुलिस उन मरीजों का रिकॉर्ड खंगाल रही है पिछले तीन दिनों में क्लिनिक का दौरा कर चुके हैं. बच्ची के शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है.