नई दिल्‍ली: जम्‍मू-कश्‍मीर के एक नौ साल के बच्‍चे ने परीक्षा देने वाले स्‍टूडेंट्स की एक बड़ी समस्‍या का हल अपनी रिसर्च से कर दिया है. बांदीपोरा के गुरेज का रहने वाला 9 साल के मुजफ्फर अहमद खान ने एक ऐसा पेन बनाया है, जिससे लिखने के साथ-साथ शब्‍दों की गिनती होती जाती है. इस ‘कांउटिंग पेन’ का अविष्‍कार करने वाले मुजफ्फर ने इसका प्रदर्शन राष्‍ट्रपति भवन में आयोजित फेस्‍टविल ऑफ इनोवेशन एंड आंत्रप्रन्यिोर में किया.

ऐसे काम करता है ये पेन
‘कांउटिंग पेन’ का अविष्‍कार करने वाले मुजफ्फर ने बताया पेन के रियर में कैसिंग जुड़ा हुआ है. इस पेन से जब लिखना शुरू करेंगे तो कैसिंग शब्‍दों की गिनती बताता है. इसे छोटी एलसीडी मॉनिटर से अटैच किया जा सकता है या इस मोबाइल फोन पर एक मैसेज के जरिए दिखाया जा सकता है.

ऐसे आया आइडिया
मुजफ्फर ने बताया कि इस पेन का अविष्‍कार करने का आइडिया तब आया, जब परीक्षा में उसके कम अंक आए, क्‍योंकि जितने शब्‍दों में उत्‍तर लिखना जरूरी था, उतने शब्‍द वह नहीं लिख पाया था. 9 साल के मुजफ्फर अहमद खान का सपना है कि वह वैज्ञानिक बने और देश के लिए काम करे. (इनपुट एजेंसी)