पटना: बिहार विधान परिषद के 11 सीटों के लिए 26 अप्रैल को होने वाले द्विवार्षिक चुनाव के लिए जदयू और भाजपा की तरफ से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित चार उम्मीदवार मैदान में हैं. वहीं इस चुनाव के लिए कांग्रेस ने प्रेम चंद्र मिश्रा को उम्मीदवार घोषित किया है. जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने रविवार को बताया कि बिहार विधान परिषद के इस द्विवार्षिक चुनाव के लिए उनकी पार्टी की ओर से राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार, रामेश्वर महतो और खालिद अनवर उम्मीदवार होंगे.

जदयू ने पार्टी के पूर्व प्रवक्ता और विधान परिषद सदस्य संजय सिंह तथा चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी को दोबारा उम्मीदवार नहीं बनाया है. भाजपा ने इस चुनाव के लिए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और पूर्व केंद्रीय मंत्री संजय पासवान को उम्मीदवार बनाया है जबकि कांग्रेस की ओर से प्रेमचंद मिश्र को प्रत्याशी बनाया गया है. बता दें कि खालिद अनवर एक उर्दू दैनिक के संपादक हैं.

विधान परिषद की इन 11 सीटों के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख 16 अप्रैल है. राजद की ओर से पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद की पत्नी राबड़ी देवी, राजद के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पुर्वे, खुर्शीद मोहसिन और संतोष मांझी ने 13 अप्रैल को ही नामांकन दाखिल कर दिया था. बिहार विधान परिषद के इस चुनाव के लिए नामांकन पत्र की जांच आगामी 17 अप्रैल को होगी जबकि नामांकन पत्र के वापस लेने की अंतिम तिथि 19 अप्रैल है.