आयकर संशोधन विधेयक के बाद सोने को लेकर काफी लोग असमंजस की स्थिती में है। सोने को लेकर देश भर में फेल रहे भ्रम को लेकर सरकार ने अपना रुख स्पष्ट करते हुए कहा है कि पुश्तैनी आभूषण और सोने पर कोई कर नही लगेगा।

इतना ही नहीं इसके अलावा घोषित आय और कृषि आय से भी खरीदे गए सोने पर कोई टैक्स नही लगाया जाएगा।

गौरतलब है कि नए आयकर कानून विधेयक के बाद लोगों के बीच ये अफवाह फैल रही है कि सरकार ने सोना रखने की सीमा तय कर दी है और यदि सरकार द्वारा तय की गई सीमा से आप ज्यादा सोना रखते हैं तो वो जब्त कर लिया जाएगा। यह भी पढ़ें: नोटबंदी के बाद सरकार ने जारी किया नया फरमान, अब घर में बस इतना सोना ही रख सकते हैं

इस पर स्पष्टीकरण देते हुए CBDT (Central Board of Direct Taxes, Government of India) ने कहा है कि सरकार ने आभूषण पर कर लगाने के संदर्भ में कोई नया प्रावधान नहीं जोड़ा है।

विभाग ने यह भी स्पष्ट करते हुए कहा कि आयकर विभाग द्वारा तलाशी अभियान के दौरान अगर विवाहित महिला के पास 500 ग्राम, प्रत्येक अविवाहित महिला के पास 250 ग्राम और परिवार के प्रत्येक पुरुष के पास यदि 100 ग्राम से अधिक सोना और गहने पाए गए, तो उसकी जब्ती नहीं होगी। यह भी पढ़ें: वित्त मंत्री अरुण जेटली ने लोकसभा में इनकम टैक्स संशोधन बिल किया पेश, अब देना होगा इतना टैक्स

CBTD ने स्पष्ट किया है कि किसी भी सीमा तक कानूनी रूप से वैध आभूषणों को रखने पर कोई कर नहीं लगेगा और यह पूरी तरह सुरक्षित है।

केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि सोने को लेकर आइटी एक्ट में कोई नया संशोधन नहीं किया गया है। कुछ तत्व गैर जरूरी कन्फ्यूजन पैदा कर अफवाह फैला रहे हैं।

उन्होंने कहा, ‘अगर सोना पैतृक है और लंबे समय से आपके पास है, तो किसी सफाई की जरूरत नहीं है। स्त्रीधन पर कोई स्पष्टीकरण नहीं देना होगा।’

फिलहाल विधेयक राज्यसभा में विचाराधीन है।