नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कोचीन शिपयार्ड लिमिटेड (सीएसएल) में पोत मरम्मत के दौरान विस्फोट के कारणों का पता लगाने के लिये घटना की तत्काल जांच का आदेश दिया है. इस हादसे में पांच लोगों की मौत हो गयी. गडकरी ने कहा, मैंने सीएसएल के प्रबंध निदेशक से बातचीत की है और उनसे पीड़ितों को सभी जरूरी चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराने को कहा है.

साथ ही उनसे संबंधित एजेंसियों से मामले की तत्काल जांच शुरू कराने को कहा है. पोत परिवहन मंत्रालय के अनुसार विस्फोट में कम-से-कम पांच लोगों की मौत हुई है. इससे पहले, सीएसएल के प्रवक्ता ने कहा था कि परिसर में पोत की मरम्मत के दौरान आग लगने से तीन लोगों की मौत हो गयी.

प्रवक्ता के अनुसार पोत के अंदर 11 लोग फंस गये थे और उन्हें बाहर निकाला गया तथा अस्पताल ले जाया गया. बताया जाता है कि पोत के अगले हिस्से में पानी की एक टंकी में विस्फोट हुआ. इस पोत ने मरम्मत के लिए यार्ड में लंगर डाला था. विस्फोट सुबह करीब दस बजे हुआ था. उस समय पोत पर काम कर रहे लोग जलपान के अवकाश के लिए पोत से उतरने वाले थे.