पटना: बिहार के भागलपुर में रामनवमी पर निकाली गई शोभायात्रा के दौरान हिंसा भड़काने के आरोपी केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे के बेटे अरिजीत शाश्वत की जमानत याचिका कोर्ट ने खारिज कर दी है. अरिजीत पर भागलपुर में रामनवमी पर शोभायात्रा निकाले जाने के दौरान लोगों को हिंसा के लिए भड़काने का आरोप है, इस हिंसा में दो पुलिसकर्मी सहित तीन लोग घायल हो गए थे और धीरे धीरे भागलपुर से शुरू हुआ तनाव बिहार के अन्य जिलों तक भी पहुंच गया है. जमानत याचिका खारिज होने के बाद अरिजीत की कभी भी गिरफ्तारी हो सकती है.

भागलपुर से शुरू हुई थी हिंसा

भागलपुर में हिंदू नववर्ष विक्रम संवत की पूर्व संध्या पर केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अरिजीत शाश्वत की अगुवाई में बीजेपी, आरएसएस और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जुलूस निकाला था. इसकी शुरुआत बुधनाथ मंदिर से हुई थी और पूरे शहर से होते हुए यह नाथनगर पहुंचा था जहां तेज आवाज में गाने बजाने को लेकर दो समुदायों में विवाद हो गया और इस विवाद ने हिंसा की शक्ल ले ली. दोनों तरफ से हिंसा की गई, गोलियां चलाई गई, पथराव हुआ और दुकानों और वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया.

मंत्री ने किया बेटे का बचाव

अपने बेटे पर लग रहे आरोपों के बीच शनिवार को केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने आरजेडी और कांग्रेस पर बिहार में दंगे भड़काने के आरोप लगाए और कहा कि केंद्र और राज्य की राजग सरकार ऐसे प्रयासों के खिलाफ कड़ा कदम उठाएंगी. उन्होंने दावा किया कि केंद्र और बिहार सरकार ने बिहार में दंगे भड़काने के प्रयासों को नाकाम कर दिया लेकिन फिर भी आरजेडी और कांग्रेस अराजकता फैलाना चाहती हैं.

मंत्री ने कहा, ‘‘हम दंगा भड़काने के आरजेडी और कांग्रेस की मंशा को परास्त करेंगे. षड्यंत्रकारी दंगा चाहते हैं लेकिन कोई भी ऐसा नहीं कर पाया और हमने बिहार को नियंत्रण में रखा है. बिहार सरकार और केंद्र मिलकर राज्य में सौहार्द खराब करने के प्रयासों को हराएंगे.’’

नवादा में भी हुई थी हिंसा

इससे पहले शुक्रवार को बिहार के नवादा में भी हिंसा हुई थी. औरंगाबाद और भागलपुर के बाद नवादा में अफवाह फैलने पर विरोध-प्रदर्शन शुरू हुआ, जिसने दो समुदायों के बीच हिंसक झड़प का रूप ले लिया. उत्तेजित भीड़ ने वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया और दुकानों में आग लगा दी. लोगों ने पुलिस पर पथराव भी किया. नवादा में कानून-व्यवस्था की स्थिति बनाए रखने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बन तैनात किया गया है.