गोरखपुर. मंगलवार को हुए डबल मर्डर के बाद गुस्साए लोगों ने बुधवार को जमकर तोड़फोड़ की. इस दौरान वहां खड़े एक पुलिस की जीप को आग के हवाले कर दिया गया. इस दौरान उपद्रवियों को काबू करने के लिए ने पुलिस ने फायरिंग और जमकर लाठीचार्ज की.

बता दें कि झगहां थाने के गजाइकोल गांव में मंगलवार को बाइक सवार दो बदमाशों ने रिटायर्ड दरोगा जयहिंद यादव और उनके बेटे नागेंद्र यादव की गोली मारकर हत्या कर दी. वारदात के बाद ग्रामीणों ने कई घंटे पुलिस का इंतजार किया. काफी देर से पुलिस के पहुंचने पर गुस्साई भीड़ ने पुलिस जीप फूंक दी. वहीं, शव को सड़क पर रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया.

उपद्रव बढ़ता देख पुलिस ने पहले आंसू गैस के गोले छोड़े और लाठीचार्ज कर दिया. इसके बावजदू हालात काबू नहीं होने पर पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी. बवाल की सूचना पर एसएसपी शलभ माथुर, एसपी उत्तर गणेश शाहा चार थानों की फोर्स लेकर पहुंचे. एहतियात के तौर पर गांव में भारी मात्रा में फोर्स तैनात कर दिया गया है.

बताया जा रहा है कि जयहिंद गोरखपुर कचहरी में एक मुकदमे की पैरवी करके लौट रहे थे. इस दौरान उनके साथ उनका बेटा भी था. गजाईकोल गांव के पास बाइक सवार बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की और फरार हो गए.