श्रीनगर: नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) पार्टी के अध्यक्ष फारुख अब्दुल्ला ने रविवार को जम्मू एवं कश्मीर के विशेष विधानसभा सत्र के दौरान नाबालिगों के साथ दुष्कर्म के दोषियों के लिए मृत्युदंड की सजा की मांग की. लोकसभा सदस्य ने कहा, “राज्य की सत्तारूढ़ पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को इस संदर्भ में बिल पारित करने के लिए विसेष सत्र का आयोजन करना चाहिए.”

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि कठुआ दुष्कर्म जैसे जघन्य अपराधों जैसे मामलों के दोषियों के लिए मृत्युदंड का प्रावधान कर भविष्य में इस तरह की घटनाओं पर काबू पाया जा सकता है. मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती पहले ही कह चुकी हैं कि नाबालिगों के साथ दुष्कर्म करने वालों के लिए मृत्युदंड की सजा के प्रावधान के लिए जम्मू एवं कश्मीर सरकार जल्द ही एक विधेयक पारित करेगी.

ये भी पढ़ें. स्वाति मालीवाल का अनशन जारी, कहा- दुष्कर्म आरोपियों को मिले मौत की सजा

दुष्कर्मियों के खिलाफ स्वाति मालीवाल का अनिश्चितकालीन अनशन जारी.

दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्ल्यू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल के अनिश्चितकालीन अनशन का रविवार को तीसरा दिन है. स्वाति बच्चियों से दुष्कर्म के दोषियों के लिए मृत्युदंड की मांग के लिए अनशन पर है. मालीवाल ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश के उन्नाव और जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ जिले में हुई दुष्कर्म की घटनाओं के मद्देनजर राजघाट पर विरोधस्वरूप अनशन शुरू किया था. (इनपुट-एजेंसी)