सुंदरबानी: जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले के सुंदरबानी इलाके में हुई मुठभेड़ में सुरक्षाबलों ने 4 आतंकियों को मार गिराया है. मारे गए आतंकी आत्मघाती थे और खुद को उड़ाने के मकसद से ही आए थे. बुधवार को दिनभर चले ऑपरेशन में आखिरकार सुरक्षाबलों को कामयाबी मिली और 4 आतंकी मारे गए. आत्मघाती हमलावर करीब चार पांच दिन पहले नियंत्रण रेखा से भारतीय सीमा में घुसे थे. इसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके में खोजी अभियान चलाया था. खोज अभियान के चलते प्राधिकारियों ने सुंदरबानी तहसील में शैक्षिक संस्थान बंद रखने का आदेश दिया था.

जम्मू क्षेत्र में इस साल यह दूसरी बड़ी आतंकी घटना है, राजौरी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक युगल मन्हास ने बताया ‘‘सुरक्षा बलों ने बुधवार को सुंदरबानी इलाके में दिन भर चले एक समन्वित अभियान में चार फिदायीन आतंकियों को मार गिराया.’’ जम्मू कश्मीर के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) एस पी वैद ने भी इस बात की पुष्टि की है कि चारों आतंकवादी मुठभेड़ में मारे गए हैं. उन्होंने बताया कि मुठभेड़ के दौरान किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

नौशेरा-सुंदरबानी पट्टी में सुरक्षा बलों ने बुधवार को सुबह आतंकियों को रोका और मुठभेड़ शुरू हुई. एसएसपी ने बताया कि चार दिन से सुंदरबानी के गांवों में खोज अभियान चल रहा था. बीती रात पुलिस, सेना और बीएसएफ के एक संयुक्त दस्ते ने सूचना के आधार पर एक सुरक्षा ठिकाने के समीप रावरिया तल्ला में खोज अभियान चलाया. मन्हास ने बताया ‘‘ झाड़ियों में छिपे आतंकियों ने बुधवार सुबह तलाश दल पर गोलीबारी की जिसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को घेरा, वहां और सुरक्षाकर्मियों को भेजा गया और मुठभेड़ शुरू हुई.’’

मारे गए आतंकियों की अभी पहचान नहीं हो सकी है और उनकी शिनाख्त की जानी बाकी है. एसएसपी ने कहा कि पुलिस को आतंकियों के विदेशी होने का संदेह है. ‘‘बड़ा हमला करने के लिए आतंकी गोला बारूद और हथियारों का जखीरा लिए हुए थे लेकिन उनके इरादे नाकाम कर दिए गए.’’ उन्होंने बताया कि सुरक्षा बलों ने मौके से आतंकियों के शव और हथियारों का जखीरा बरामद किया है. डीआईजी राजौरी (पुंछ रेंज) डी के सलाठिया की निगरानी में अभियान चलाया गया.