नई दिल्ली: गूगल ने सीबीएसई पेपर लीक मामले में दिल्ली पुलिस को संदिग्ध ई-मेल के बारे में जवाब भेजा है. दिल्ली पुलिस की अपराधा शाखा की तरफ से यह जानकारी गूगल से मांगी गई थी जिसके जरिए सीबीएसई अध्यक्ष को 10वीं कक्षा के गणित के पेपर के लीक होने के संबंध में मेल भेजा गया था.

पुलिस के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि उन्हें ऑनलाइन सर्च इंजन से जवाब मिल गया है, लेकिन उन्होंने इस पर फिलहाल अधिक जानकारी नहीं दी जा सकती. इस बीच, पुलिस ने पेपर लीक मामले में अपनी जांच जारी रखी है और इस संबंध में उन्होंने बाहरी दिल्ली के कई स्कूलों और कोचिंग सेंटरों पर पहुंचकर पूछताछ शुरू की. अधिकारी ने बताया कि अभी तक 60 से अधिक लोगों से पूछताछ की जा चुकी है, लेकिन मामले में कोई बड़ी सफलता हासिल नहीं हुई है.

सीबीएसई लीक केस: फ्री में व्हाट्सएप पर बांटे गए थे पेपर, 60 लोगों से पूछताछ

‘सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन’ (सीबीएसई) की अध्यक्ष अनीता कारवाल को 10 वीं की गणित परीक्षा से एक दिन पहले पेपर के लीक होने की जानकारी वाला एक मेल मिला था. मेल भेजने वाले की जानकारी हासिल करने के लिए पुलिस ने गूगल से ई- मेल आईडी के संबंध में जानकारी मांगी थी. बता दें कि 10 वीं की गणित की परीक्षा 28 मार्च को हुई थी.

गौरतलब है कि 28 मार्च की सुबह 1 बजकर 39 मिनट पर devn532@gmail.com से सीबीएसई चेयरपर्सन को मेल मिला. उस मेल के साथ 12 पेज अटैच थे, जिनमें गणित के पेपर और उनके जवाब मौजूद थे. इस मेल में पेपर को कैंसिल करने की अपील भी की गई थी, लेकिन सीबीएसई ने पेपर कैंसिल नहीं किया. एग्जाम होने के 90 मिनट बाद पुलिस को शिकायत देकर इस बात की जानकारी दी.