इंदौर: केंद्रीय रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने कहा है कि देश को तेज गति से चलने वाली ट्रेनों की आवश्यकता है. मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आयोजित ‘रेल सप्ताह’ कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए मनोज सिन्हा ने सोमवार को इंदौर से भोपाल रेल खंड का निरीक्षण करने से पहले यहां संवाददाताओं से चर्चा के दौरान कहा कि देश को तेज रफ्तार से दौड़ने वाली ट्रेनों की आवश्यकता है. उन्होंने बुलेट ट्रेन और सामान्य ट्रेन के परिचालन को अलग-अलग बताया.

आज ही के दिन चली थी पहली रेलः इस लाइन को बिछाने में चली गई थी 25 हजार मजदूरों की जान

देश के विभिन्न हिस्सों में गाड़ियों के बेपटरी हो जाने और बुलेट ट्रेन चलाने को लेकर पूछे गए सवाल पर मनोज सिन्हा ने कहा, ‘जहां तक बुलेट ट्रेन और सामान्य ट्रेन की बात है, बुलेट ट्रेन का परिचालन अलग तरह से होता है और सामान्य ट्रेन का अलग तरीके से.’

चंपारण हमसफर एक्सप्रेस को पीएम मोदी ने दिखाई हरी झंडी, जानिए कितना है किराया

रेल पटरियों की स्थिति के सवाल पर मनोज सिन्हा ने नाराजगी जताई और अन्य किसी प्रश्न का जवाब दिए बिना आगे बढ़ गए. रेल कर्मचारियों को पुरस्कृत करने के लिए शुरु की गई योजना को सिन्हा ने एक अच्छी पहल करार दिया है. वह भोपाल में होने वाले रेलवे के 63वें राष्ट्रीय रेल पुरस्कार समारोह में हिस्सा लेंगे. समारोह में 113 रेलकर्मियों को उत्कृष्ट सेवा पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. (इनपुट-एजेंसी)