नई दिल्ली. भारतीय नौसेना अब और भी ताकतवर बन जाएगी. नौसेना के बेड़े में INS अरिदमन जल्द ही शामिल होगा. यह भारत की दूसरी परमाणु हथियारबंद पनडुब्बी होगी. INS अरिदमन दुश्मन के लिए किसी विनाशक से कम नहीं होगी. ये पानी के अंदर और सतह पर किसी भी हालात से निपट सकती है. इसका अचूक प्रहार दुश्मन सेना का नाश कर देगा.

INS अरिदमन का निर्माण विशाखापत्तनम के शिप बिल्डिंग सेंटर में किया जा रहा है. जिसे अगले कुछ महीनों के भीतर पीएम मोदी नौसेना को सौंप सकते हैं. सूत्रों की माने तो भारतीय नौसेना में शामिल होने वाली यह घातक पनडुब्बी अरिदमन आईएनएस अरिहंत से अधिक शक्तिशाली है और बेहतरीन तरीके से उसे बनाया गया है. जहां INS अरिहंत को लॉन्च करने में 11 साल लगा था, वहीं अरिदमन को 8 साल का वक्त लगा.

INS अरिदमन का निर्माण भारत ने बडे ही गोपनीय ढंग से किया. बता दें कि INS अरिदमन भारत द्वारा विकसित की जा रही द्वितीय स्वदेशी परमाणु पनडुब्बी है. जिसका निर्माण उन्नत प्रौद्योगिकी पोत (ATV) परियोजना के तहत किया जा रहा है. INS अरिदमन आधुनिक मिसाइलों से लैस होगी और इसकी अचूक मारक क्षमता इसे और भी मजबूत बनाती है.