जम्मू.. जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग गुरुवार को लगातार चौथे दिन बंद रहा क्योंकि राजमार्ग से अभी भी भूस्खलन का मलबा हटाने का काम जारी है. यातायात विभाग के एक अधिकारी ने कहा, राजमार्ग पर यातायात की अनुमति नहीं दी जाएगी क्योंकि बेटरी चेशमा और सड़क के कुछ अन्य हिस्सों पर मलबा हटाने का काम चल रहा है.

करीब 300 किलोमीटर लंबी सड़क के विभिन्न हिस्सों पर कम से कम 2,000 वाहन फंसे हुए हैं. वहीं, रास्ते में फंसे लोग शिकायत कर रहे हैं कि उनसे दुकानदार और होटल के मालिक दाम से अधिक वसूल रहे हैं. प्रशासन ने कहा कि राजमार्ग के गुरुवार दोपहर तक बहाल होने की उम्मीद है.

प्रशासन ने जम्मू और श्रीनगर शहर के यातायात नियंत्रण कक्ष से संपर्क किए बगैर किसी को भी यात्रा न करने की सलाह दी है. यह राजमार्ग हर मौसम में कश्मीर घाटी को देश के शेष हिस्से से जोड़ता है. कश्मीर में मौसम की पहली बड़ी बर्फबारी के बाद इसे सोमवार को बंद कर दिया गया था.

बता दें कि करीब 300 किमी लंबा राजमार्ग कश्मीर घाटी की जीवनरेखा है क्योंकि सभी आश्वयक पदार्थ इसी मार्ग के जरिए पहुंचते हैं, जिसमें खाद्यान्न, सब्जियां, खाद्य तेल, दवाएं और पेट्रोलियम उत्पाद शामिल हैं.