नई दिल्ली: कठुआ मामले को लेकर पूरे देश में गुस्से की लहर है. इसी के मद्देनजर रविवार को दिल्ली के जंतर मंतर पर लोग बड़ी संख्या में एकत्रित हुए और विरोध प्रदर्शन किया. जम्मू के कठुआ में बच्ची के साथ हुई बर्बरता को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शर्मनाक करार दिया है. दिल्ली के अलावा मुंबई के बांद्रा में भी कुछ ऐसा ही नजारा देखने को मिला.

दिल्ली के संसद रोड पर लोग हाथ में बैनर और पोस्टर लेकर बैठे हुए दिखाई दिए. एक पोस्टर में लिखा है चुप्पी अब कोई उपाय नहीं, इंसाफ चाहिए. वहीं सिविल सोसायटी समेत तमाम लोग इन घटनाओं के विरोध में दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन करते नजर आए. इस विरोध प्रदर्शन में छात्रों और वरिष्ठ नागरिकों समेत छोटे बच्चे भी शामिल हुए. लोगों की मांग है कि उन्नाव और कठुआ घटना के दोषियों को सख्त सजा दी जाए.

कठुआ रेप केस में पीड़ित पक्ष के एक वकील तालिबान हुसैन ने कहा कि पीड़िता के परिवार की किसी से सुध लेने की कोशिश नहीं की है. बता दें कि कठुआ के अलावा उत्तर प्रदेश के उन्नाव में भी नाबालिग के साथ हुई दरिंदगी के खिलाफ लोगों ने आवाज उठाई. लोगों का कहना है कि मामले में आरोपी विधायक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए.

बता दें कि उन्नाव में बीजेपी विधायक पर एक युवती से रेप का आरोप है. इसके अलावा पीड़िता के पिता की हत्या का भी आरोप है. पूरे देश में इस मुद्दे पर चर्चा होने के बाद सीबीआई ने आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं, दूसरी तरफ कठुआ में 8 साल की बच्ची से गैंगरेप के बाद मर्डर के आरोप में 60 साल के बुजुर्ग समेत पुलिसकर्मियों के नाम भी सामने आए हैं.