केरल: केरल के एजिमाला में भारतीय नौसेना अकादमी (आईएनए) में 26 वर्षीय कैडेट की मौत दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी. हालांकि मौत शक के घेरे में थी. अब पुलिस को कैडेट का सुसाइड नोट मिला है, जिसमें कैडेट ने 2 वरिष्ठ अधिकारियों पर उत्पीड़न का आरोप लगाया है. दोनों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर लिया गया है.

भारतीय नेवल अकादमी कोर्स (आईएनएसी) के प्रथम श्रेणी के कैडेट गुडेप्पा सूरज कल शाम साढ़े पांच बजे आईएनए की अकादमी में बेहोशी की हालत मे पाए गए थे.विज्ञप्ति में कहा गया कि उन्हें तुरंत ही भारतीय नौसेना के अस्पताल ‘नवजीवन’ ले जाया गया जहां उन्हें इंटरावेन्स फ्लूइड रेस्यूकैशन दिया गया.

इसके बाद उन्हें कन्नूर जिले के ‘परियारम मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल’ (पीएमसीएच) में भर्ती करवाया गया, जहां एक चिकित्सक विशेषज्ञ और चिकित्सक सहायक उनके साथ गए.पीएमसीएच में कैडेट को दो बार दिल का दौरा पड़ा जहां उन्हें बचाने के सभी प्रयास असफल रहे और देर रात ढाई बजे उन्होंने दम तोड़ दिया. उन्होंने बताया कि दक्षिण नौसेना कमांड ने मामले की जांच के आदेश दे दिए थे और मृतक के परिवार को इत्तिला कर दिया गया था. मृतक मल्लापुरम जिले का निवासी था.

सूरज ने भारतीय नौसेना में एक नाविक के तौर पर 2010 में अपने करियर की शुरुआत की. सूरज ने 2013 में अधिकारी बनने की परीक्षा दी और आईएनए में शामिल हुए. उनके परिवार ने कहा, तभी से लगातार सूरज और आईएनए अधिकारियों के बीच मनमुटाव चल रहा था. साल 2015 में आईएनए ने उनकी सेवा समाप्त कर दी थी. इसके बाद उन्होंने सशस्त्र बल ट्राइब्यूनल से संपर्क किया जिसने आईएनए को उन्हें फिर से बहाल करने को कहा.