नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने देश के संचित निधि से नागरिकों को दिये जाने वाले लाभ से जुड़ी कल्याणकारी योजनाओं को आधार से जोड़ने की समयसीमा को 30 जून तक बढ़ा दिया है. इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय के कार्यालय ज्ञापन के अनुसार समयसीमा को बढ़ाकर 30 जून 2018 कर दिया गया है. अब तक यह समयसीमा 31 मार्च 2018 थी.

बैंक खातों तथा मोबाइल फोन को 12 अंकों वाली बायोमेट्रिक पहचान संख्या आधार से जोड़ने की समय सीमा पहले ही तब तक के लिए बढ़ाई जा चुकी है जब तक पांच न्यायाधीश की पीठ इस मामले में अपना फैसला नहीं सुनाती है. पीठ उन याचिकाओं पर सुनवाई कर रही है जिसमें बायोमेट्रिक योजना की वैधता को चुनौती दी गई है.

इससे पहले मंगलवार को भी केंद्र सरकार ने आधार कार्ड को पैन कार्ड के साथ जोड़ने की अंतिम तिथि को चौथी बार तीन महीनों के लिए 30 जून तक बढ़ा दिया था, पहले आधार कार्ड को पैन कार्ड से जोड़ने की अंतिम तिथि 31 मार्च रखी गई थी. सरकार ने पहली बार एक जुलाई, 2017 को आधार संख्या को जोड़ना अनिवार्य किया था. पहली बार इसे 31 अगस्त, 2017 तक और बाद में 31 दिसंबर, 2017 तक करदाताओं को हो रही कठिनाइयों को देखते हुए बढ़ाया गया था. कई करदाताओं ने 31 दिसंबर तक भी आधार को पैन से जोड़ने का काम पूरा नहीं किया था, जिसके बाद सरकार ने समय सीमा इस साल 31 मार्च तक बढ़ा दी थी.