नई दिल्ली, 2 दिसम्बर। पश्चिम बंगाल में टोल प्लाजा पर सेना की तैनाती और नोटबंदी को लेकर विपक्ष ने शुक्रवार को लोकसभा में हंगामा किया, जिसके कारण सदन की कार्यवाही बाधित हुई। लोकसभा की कार्यवाही जैसे ही शुरू हुई, तृणमूल कांग्रेस के नेता सुदीप बंदोपाध्याय ने पश्चिम बंगाल में सेना की तैनाती का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को इस मामले में अंधेरे में रखा गया।

रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने यह कहते हुए तृणमूल नेता के दावे का खंडन किया कि यह नियमित अभ्यास था और ऐसा पिछले कई वर्षो से किया जाता रहा है। इसके बाद विपक्षी कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस के नेता अध्यक्ष की आसंदी के पास पहुंचकर सरकार के नोटबंदी के फैसले के खिलाफ नारेबाजी करने लगे।

लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने हंगामा कर रहे सदस्यों से प्रश्नकाल बाधित नहीं करने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह अन्य सदस्यों का अधिकार है। अध्यक्ष की इस दलील के बाद भी विपक्षी सदस्य शांत नहीं हुए और हंगामा जारी रहा, जिसे देखते हुए महाजन ने सदन की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।