नई दिल्ली. नई दिल्ली में राष्ट्रपति भवन से सटे नार्थ ब्लॉक और साउथ ब्लॉक विविध थीमों पर विभिन्न रंग संयोजनों से डायनमिक प्रकाश व्यवस्था से जगमगाता हुआ नजर आया. इसे सौर ऊर्जा की लाइट से सजाया गया है.  पीएम मोदी के साथ राजनाथ सिंह और रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण नॉर्थ और साउथ ब्लॉक में सोलर लाइटिंग को देखने के लिए पहुंचे.

modi1

इस दौरान नई रोशनी की जगमगाहट का एक बीस मिनट का लाइव प्रदर्शन आयोजित किया गया था. ये ऐतिहासिक भवन साल में गणतंत्र दिवस, स्वतंत्रता दिवस समेत समेत आठ चुनिंदा दिवसों पर स्टेटिक प्रकाश व्यवस्था से आलोकित रहता हैं. इस व्यवस्था के तहत 16,750 वर्गमीटर क्षेत्र आता है.

mmmmm

नई डायनमिक लाइट 21,450 वर्गमीटर क्षेत्र शाम सात बजे से सुबह के पांच बजे तक जलता रहेगा. इसे इस तरह बनाया गया है कि हर कुछ सेंकेंड पर उनके रंग बदलते हुए नजर आएंगे.

mmm

वहीं इलेक्ट्रिक बोझ कम करने के लिए कम वॉट के बल्वों का इस्तेमाल किया गया है. एलईडी प्रकाश फिटिंग के एक लाख घंटे यानी 25 साल होने की संभावना है जबकि वर्तमान प्रकाश व्यवस्था में बल्बों की जीवन अवधि 100000 घंटे है.

 

delhi

राष्ट्रपति भवन भी अगले तीन महीने भी इसी तरह जगमगाएगा. इसके साथ दिल्ली में बड़ी संख्या में सैलानी इस मन को आकर्षित करने वाले रोशनी को देखने पहुंचते हैं.