नई दिल्ली। देश के सबसे बड़े बैंक घोटाले पर कांग्रेस के आरोपों से तिलमिलाई भारतीय जनता पार्टी ने आज इसे लेकर सफाई दी. बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि घोटाले के आरोपी नीरव मोदी का पासपोर्ट रद्द किया जाएगा. दावोस में नीरव मोदी की मौजूदगी के मुद्दे पर प्रसाद ने कहा कि वह अपने आप दावोस गए थे. प्रसाद ने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए कहा कि वह फोटो की राजनीति ना करे.

प्रसाद ने कहा कि घोटालेबाज का कद-पद कुछ भी हो, उन पर सख्त कार्रवाई होगी. अब तक नीरव मोदी की 1300 करोड़ की संपत्ति सीज की गई है. उसका पासपोर्ट भी रद्द किया जाएगा. नीरव की दावोस में मौजूदगी पर सफाई देते हुए प्रसाद ने कहा कि नीरव मोदी पीएम के साथ दावोस नहीं गया था. वह खुद ब खुद दावोस गया था और सीआईआई ग्रुप फोटो इवेंट में मौजूद था.

इस दौरान रविशंकर ने कांग्रेस की भाषा पर एतराज जताते हुए उसपर पलटवार किया. उन्होंने कहा कि छोटा मोदी किस तरह का शब्द है? बीजेपी इस तरह की भाषा की घोर निंदा करती है. ये अमर्यादित और अपमानपूर्ण है. उन्होंने कहा, कांग्रेस फोटो की राजनीति बंद करे. मेहुल चोकसी के साथ कई कांग्रेस नेताओं के अच्छे और नजदीकी फोटो हमारे पास हैं, लेकिन हम उनके स्तर पर नहीं गिरना नहीं चाहते.

पढ़ें- सरकार के हरकत में आने से पहले ही फरार हो गया नीरव मोदी और उसका परिवार

बता दें कि नीरव मोदी पर 11400 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाले का आरोप लगा है. इस घोटाले का खुलासा पीएनबी ने बुधवार 14 फरवरी को ही किया था. इसे लेकर बैंक ने सीबीआई में भी शिकायत दर्ज करवा दी है. इस बीच कांग्रेस ने आज दावोस में नीरव मोदी की मौजूदगी वाला फोटो पोस्ट कर सियासी नूराकुश्ती को हवा दे दी. आज रविशंकर प्रसाद ने इसे लेकर ही प्रेस कांफ्रेंस की और कांग्रेस के सवालों का जवाब दिया.

फिलहाल नीरव मोदी स्विट्जरलैंड में है और खुलासा हुआ है कि वह एफआईआर दर्ज होने से पहले ही 1 जनवरी को परिवार सहित देश छोड़ चुका था. हालांकि नीरव ने पीएनबी से कहा है कि वह 6 महीने में ही आधी रकम चुका देगा. इस बीच नीरव मोदी के ठिकानों पर छापों का दौर जारी है. अब तक उसका बांद्रा में उसका घर और करोड़ों की संपत्ति जब्त हो चुकी है.