वॉशिंगटन। अमेरिकी खुफिया प्रमुख ने मंगलवार को आगाह किया कि पाकिस्तान छोटी दूरी के हथियारों सहित नए तरह के परमाणु हथियारों का विकास कर रहा है. नेशनल इंटेलीजेंस के निदेशक डैन कोट्स ने शनिवार को जम्मू में सुंजवां सैन्य शिविर पर हुए पाकिस्तानी आतंकियों के एक समूह के हमले के कुछ दिन बाद यह टिप्पणी की.

कोट्स ने खुफिया मामलों से जुड़ी सीनेट की प्रवर समिति द्वारा विश्वव्यापी खतरों के विषय पर आयोजित की गई सुनवाई के दौरान सांसदों से कहा कि पाकिस्तान छोटी दूरी के रणनीतिक हथियारों सहित नए तरह के परमाणु हथियारों का विकास कर रहा है. उन्होंने अगाह किया कि पाकिस्तान ने परमाणु हथियारों का निर्माण और छोटी दूरी के रणनीतिक हथियारों सहित नये तरह के परमाणु हथियारों, समुद्र आधारित क्रूज मिसाइलों, हवा में छोड़े जाने वाले क्रूज मिसाइल और लंबी दूरी के बैलिस्टिक मिसाइल का विकास करना जारी रखा है.

भारत पर और आतंकी हमले का अंदेशा जताया

इसके साथ ही अमेरिका के खुफिया प्रमुख ने मंगलवार को चेतावनी दी कि पाकिस्तान समर्थित आतंकी समूह भारत के भीतर हमले जारी रखेंगे और ऐसे में दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ने का खतरा है. राष्ट्रीय खुफिया के निदेशक डैन कोट्स का यह बयान उस वक्त आया है जब कुछ दिनों में पहले जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादियों ने सुंजवां में सैन्य शिविर पर हमला किया था जिसमें छह सैनिकों सहित सात लोगों की मौत हो गई थी.

कोट्स ने सीनेट की प्रवर समिति के समक्ष सुनवाई में कहा कि इस्लामाबाद समर्थित आतंकी समूह भारत और अफगानिस्तान में हमले की योजना बनाने और हमले करने के लिए पाकिस्तान में अपनी सुरक्षित पनाहगाह का लाभ उठाना जारी रखेंगे. पाकिस्तान के किसी आतंकी संगठन का नाम लिए बगैर कोट्स ने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ने के आसार हैं.

ये भी पढ़ें- सुंजवान आर्मी कैंप पर आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान को सता रहा सर्जिकल स्ट्राइक का डर

बता दें कि सुंजवां आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में 5 जवान शहीद हुए थे. भारी हथियारों से लैस हमलावरों के एक समूह ने 10 फरवरी को जम्मू कश्मीर लाइट इन्फेंट्री की 36 ब्रिगेड के शिविर पर हमला किया था जिसमें पांच जवानों समेत छह लोगों की मौत हो गई थी. इस हमले में जम्मू कश्मीर के पांच जवान शहीद हो गए थे और एक शहीद जवान के पिता की मौत हो गई थी. इस हमले में दो अधिकारियों और छह महिलाओं और बच्चों समेत 10 लोग घायल हो गए थे.

पाकिस्तानी मूल के तीनों आतंकवादी जूनियर कमिशन्ड ऑफिसर के आवासीय क्वार्टर में प्रवेश करने में कामयाब रहे थे, जिन्हें बाद में सुरक्षा बलों ने मार गिराया. भारत ने इस हमले पर कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए पाकिस्तान को चेताया. रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने साफ शब्दों में कहा कि पाकिस्तान को इसका अंजाम भुगतना होगा. जवाब में पाकिस्तान के रक्षा मंत्री खुर्रम दस्तगीर ने कहा कि अगर भारत ने कुछ किया तो उसे करारा जवाब दिया जाएगा.

(भाषा इनपुट)