चंडीगढ़। भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कहा कि उनकी पार्टी 2019 में होने वाले आम चुनाव में 2014 के चुनावों की तुलना में अधिक अंतर से जीत हासिल करेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि हम कश्मीर में स्थिति को काबू में लाएंगे। चंडीगढ़ प्रेस क्लब में ‘मीट द प्रेस’ कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि लोग बीजेपी (भारतीय जनता पार्टी) और नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार के साथ खड़े हैं।

शाह ने कहा कि भाजपा ने देश को जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण की राजनीति से निजात दिलाई है। जम्मू और कश्मीर में चल रही अशांति के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि जल्द ही स्थिति को काबू में किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि कश्मीर में ऐसी स्थिति 1989 में भी थी। हम स्थिति को काबू में कर रहे हैं। सुरक्षा एजेसिंयों ने अलगाववादी नेताओं के खिलाफ कदम उठाना शुरू कर दिया है जो पाकिस्तान और उसकी एजेंसियों के इशारे पर घाटी में आग को भड़का रहे हैं।

केंद्र की सत्ता में भाजपा की तीन साल की उपलब्धियों पर प्रकाश डालते हुए शाह ने कहा कि मोदी सरकार ने हर मोर्चे पर देश को आगे बढ़ाया है। यहां तक कि हमारे राजनीतिक विरोधी भी तीन सालों की भाजपा सरकार पर भ्रष्टाचार का कोई आरोप लगाने में असफल हैं। बीजेपी दुनिया की सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी के रूप में उभरी है, जिसके 11 करोड़ से ज्यादा कार्यकर्ता हैं।

आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं द्वारा ईवीएम पर सवाल उठाए जाने के बारे में अमित शाह ने कहा कि मैं आप के नेताओं से पूछना चाहता हूं कि दिल्ली चुनावों में 70 में से 67 सीटें किस ईवीएम ने दिलवाई थी। पंजाब के बारे में उन्होंने कहा कि अकाली दल के साथ गठजोड़ जारी रहेगा और पार्टी हार के कारणों का विश्लेषण कर रही है।