नई दिल्ली. 5 महीने से भी कम वक्त में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दूसरी बार केदारनाथ मंदिर जा रहे हैं. मोदी का ये दौरा 20 अक्टूबर को हो सकता है. प्रधानमंत्री चीन की सीमा पर सेना और आईटीबीपी के जवानों के साथ दिवाली भी मना सकते हैं, हालांकि इसका पूरा शेड्यूल अभी फाइनल नहीं हुआ है. 

अमित शाह ने पार्टी के दलित कार्यकर्ता के घर किया भोजन

अमित शाह ने पार्टी के दलित कार्यकर्ता के घर किया भोजन

पीएम दिवाली से अगले दिन केदारनाथ धाम का दौरान करेंगे और यहां पर कई प्रोजेक्ट्स की शुरुआत करेंगे. इन प्रोजेक्ट्स में मंदिर के ईर्द-गिर्द सुरक्षा दीवार का निर्माण भी शामिल है. ये दीवार 2013 में आए आपदा के हालात में मंदिर की सुरक्षा करेगा. इससे पहले पीएम ने मंदिर का दौरा तब किया था जब सर्दियां बीतने पर मंदिर के कपाट खोले गए थे. अब मंदिर के कपाट दोबारा बंद होने से पहले पीएम यहां दौरा करेंगे.

एक रिपोर्ट के मुताबिक, मोदी 2019 के चुनावी अभियान की शुरुआत साल 2018 के अंत में यहीं से कर सकते हैं. उस वक्त तक तभी प्रोजेक्टस जिसमें यहां का सौंदर्यीकरण भी शामिल है, प्रशासन द्वारा किया जा चुका होगा. पीएम की भगवान शिव में विशेष आस्था है. उन्होंने गुजरात के सोमनाथ मंदिर से कई अभियानों की शुरुआत की है और वहीं पर कई अभियानों का समापन भी किया है.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने हाल में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और नेहरू इंस्टिट्यूट ऑफ माउनटेनियरिंग चीफ कर्नल अजय कोठियाल के साथ बैठक कर प्रोजेक्ट्स की डेडलाइन अक्टूबर 2018 तय की थी. ये प्रोजेक्ट्स 2013 की भयानक आपदा से हुए नुकसान को देखते हुए शुरू किए गए हैं.