अमेरिका की जानी-मानी पत्रिका का है ‘टाइम’। यह पत्रिका हर साल एक पर्सन ऑफ द ईयर का खिताब देती है। इस साल इस खिताब के लिए ऑनलाइन वोटिंग जारी है। इस में भारत के प्रधानमंंत्री नरेंद्र मोदी सबसे आगे चल रहे हैं। टाइम पर्सन की दौड़ में विश्व के तमाम बड़े नेता प्रतिभाग कर रहे हैं लेकिन दूर-दूर तक नरेंद्र मोदी के करीब कोई नेता नहीं है। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा, नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और पुतिन जैसे नेता भी इस रेस में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से काफी पीछे हैं। इस रेस में सिर्फ राजनेता ही नहीं, अलग-अलग क्षेत्रों की हस्तियाँ भी होती हैं। नरेंद्र मोदी अब तक कुल 21 प्रतिशत वोटों के साथ नंबर 1 पर चल रहे हैं। यह भी पढेंः पीएम नरेंद्र मोदी सहित 22 नेताअों की हत्या की साजिश रचने वाले 3 आतंकी गिरफ्तार

‘टाइम’ पत्रिका हर साल उस शख्स को इस खिताब से नवाज़ती है, जिसने उनके हिसाब से पिछले साल में ख़बरों तथा दुनिया को सबसे ज़्यादा प्रभावित किया, भले ही वह अच्छे के लिए हो या बुरे के लिए। पिछले साल यह खिताब जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल को दिया गया था। गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी टाइम पर्सन ऑफ द ईयर की दौड़ में लगातार चौथे साल शामिल हो रहे हैं लेकिन इसबार उनका खिताब जीतना लगभग तय माना जा रहा है।

नरेंद्र मोदी के बाद दूसरे नंबर पर विकीलीक्स के विवादास्पद संस्थापक जूलियान असांजे हैं, जिन्हें आठ फीसदी वोट हासिल हुए हैं। इस समय नंबर तीन पर अमेरिका के मौजूदा राष्ट्रपति बराक ओबामा हैं, जिन्हें सात फीसदी वोटरों का समर्थन हासिल हुआ है, जबकि उनकी पत्नी तथा अमेरिका की मौजूदा फर्स्ट लेडी मिशेल ओबामा को भी पांच फीसदी वोट हासिल हुए हैं।

हालांकि ऑनलाइन वोटिंग में नरेंद्र मोदी के आगे चलने से ये जरूरी नहीं है कि उन्हें ही खिताब मिले। इसका अंतिम फैसला टाइम पत्रिका का संपादक मंडल ही करता है। लेकिन पाठकों की यह वोटिंग फैसले को प्रभावित करने में बड़ी भूमिका निभाती है। इस बार के पोल में कुल 30 शख्सियतों को शामिल किया गया है।