Live Updates

  • 2:40 PM IST

    पानी की कमी विकास की गति को धीमा करने का एक बड़ा कारक है; हमने बांध से पानी भारत-पाक सीमा पर हमारे बीएसएफ के जवानों तक पहुंचाया है: मोदी

  • 2:28 PM IST

    दुनिया की किसी अन्य परियोजना के समक्ष कभी इतने अवरोध नहीं आए जितने कि नर्मदा पर बने सरदार सरोवर बांध के सामने आए: मोदी

  • 2:19 PM IST

    इंजीनियरिंग का कमाल रही इस बांध परियोजना के खिलाफ वृहत रूप से गलत सूचनाओं का अभियान चलाया गया: मोदी

  • 1:16 PM IST

  • 1:04 PM IST

  • 12:56 PM IST

    जब वर्ल्ड बैंक ने पैसे देने से मना कर दिया था, तब गुजरात के मंदिरों ने पैसा दिया- मोदी

  • 12:55 PM IST

    सीमा पर बीएसएफ के जवान बिना पानी के खड़े थे: मोदी

  • 12:52 PM IST

    देश के पसीने से बांध बनाया गया: मोदी

  • 12:51 PM IST

    सरदार पटेल ने इस बांध का सपना देखा था: मोदी

  • 12:48 PM IST

    ये सिर्फ गुजरात नहीं, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, राजस्थान के किसानों के भाग्य को बदलने वाला प्रोजेक्ट है- मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने 67वें जन्मदिन पर रविवार को सरदार सरोवर नर्मदा बांध परियोजना का लोकार्पण किया. उद्घाटन समारोह में गुजरात के सीएम विजय रुपाणी, पूर्व सीएम आनंदीबेन पटेल, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी मौजूद रहे. इससे पहले मोदी आज सुबह गांधीनगर में अपने जन्मदिवस के अवसर पर अपनी मां हीरा बा का आशीर्वाद लेने उनके पास गए. सरदार सरोवर नर्मदा बांध परियोजना के लोकार्पण के साथ ही मोदी एक रैली को भी संबोधित करेंगे. गुजरात विधानसभा चुनावों से पहले मोदी की इस रैली को राजनीतिक लिहाज से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

मोदी ने आज उस नर्मदा बांध परियोजना का लोकार्पण किया जिसकी परिकल्पना सरदार वल्लभभाई पटेल ने 1946 में ही की थी. हालांकि इस पर काम 1970 के दशक से ही प्रारंभ हो पाया. इस बांध परियोजना और इस पर बनी विद्युत परियोजना से चार राज्यों गुजरात, महाराष्ट, राजस्थान और मध्य प्रदेश को लाभ मिलेगा.