नई दिल्लीः चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष के समापन समारोह के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को मोतीहारी में कहा था कि पिछले एक हफ्ते में बिहार में 8 लाख 50 हजार से ज्यादा शौचालयों का निर्माण कार्य पूरा हुआ है. लेकिन बिहार सरकार का कहना है कि इन साढ़े आठ लाख शौचालयों का निर्माण बीते एक सप्ताह नहीं बल्कि चार सप्ताह के दौरान हुआ है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दावे पर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने तंज कसते हुए ट्वीट किया है. तेजस्वी ने लिखा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक हफ्ते में 8.50 टॉयलेट बनाने का दावा किया है.

एक हफ्ते = 7 दिन
एक दिन = 24 घंटे
7 दिन = 168 घंटे
एक घंटे = 60 मिनट

यानी

850000%168=5059 टॉयलेट प्रति घंटे
5059/60 = 84.31 टॉयलेट पर मिनट

ऐसे झूठे दावे से बिहार के मुख्यमंत्री भी सहमत नहीं होंगे

क्या कहा था पीएम ने
गौरतलब है कि स्वच्छता अभियान में बिहार सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि 100 वर्ष पहले का इतिहास खुद को दोहरा रहा है और चंपारण की इस पवित्र भूमि से स्वच्छता एवं स्वच्छाग्रहियों के जन आंदोलन की तस्वीर पेश कर रहा है . ‘चंपारण सत्याग्रह शताब्दी वर्ष के समापन समारोह’ पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा था कि मुझे गर्व है कि सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह तक की इस यात्रा में बिहार के लोगों ने एक बार फिर अपनी नेतृत्व क्षमता दिखाई. उन्होंने कहा कि यह लोगों की इच्छाशक्ति ही है कि पिछले एक हफ्ते सत्याग्रह से स्वच्छाग्रह सप्ताह मनाया गया है और इस दौरान बिहार, उत्तर प्रदेश, ओडिशा और जम्मू-कश्मीर में लगभग 26 लाख शौचालयों का निर्माण किया गया है .

पीएम ने पेश किए थे आंकड़े
पीएम ने कहा था कि पिछले साढ़े तीन वर्षों में देश में साढे तीन सौ से ज्यादा जिले और साढे तीन लाख से ज्यादा गांवों को खुले में शौच से मुक्त घोषित कर चुके हैं. स्वच्छता कार्यक्रम में बिहार सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए मोदी ने कहा कि बिहार एकमात्र ऐसा राज्य था, जहां स्वच्छता का दायरा 50 प्रतिशत से कम था. लेकिन मुझे बताया गया कि एक हफ्ते के स्वच्छाग्रह अभियान के बाद बिहार ने इस बाधा को तोड़ दिया. पिछले एक हफ्ते में बिहार में 8 लाख 50 हजार से ज्यादा शौचालयों का निर्माण किया गया.