नई दिल्लीः 24 साल की एक गर्भवती महिला का शव सूटकेस में मिला है. वह ग्रेटर नोएडा में अपने घर से रविवार को लापता हो गई थी. गाजियाबाद के इंद्रापुरम में महिला का शव एक नाले में सूटकेस में पड़ा मिला. माला के परिवार ने उसके पति और ससुराल वालों पर दहेज के लिए हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने इस मामले में 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया है.

नवंबर 2017 में माला ने सेल्समैन शिवम के साथ प्रेम विवाह किया था. दोनों की मुलाकात फेसबुक पर हुई. पति-पत्नी बिसरख में रहते थे. माला बच्चों को ट्यूशन पढ़ाती थी. महिला के परिवार वालों ने उसके लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी. डीएसपी धर्मेंद्र चौहान ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि कनवानी क्षेत्र में एक महिला का शव मिला है.

पुलिस ने बताया कि जब टीम मौके पर पहुंची तो महिला का शव एक सूटकेस में पड़ा मिला. शव के हाथ और पैर बंधे हुए थे. शव की पहचान के लिए नजदीक के पुलिस स्टेशन को सूचना दी गई. सूचना मिलने के बाद माला का परिवार इंद्रापुरम थाने पहुंचा और शव की पहचान की. इसके बाद बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया. परिवार वालों ने पुलिस को बताया कि वह गर्भवती थी.

माला के भांजे गौरव का कहना है कि जिस सूटकेस में लाश मिली, वह माला को शादी में दिया गया था. परिजनों का कहना है कि माला के पति ने अपने भाई, मां व पिता के साथ मिलकर माला की गला घोंटकर हत्या की है. परिजनों के अनुसार माला का पति पांच लाख रुपये और कार न मिलने से नाराज था. वह पांच माह की गर्भवती भी थी.

बिसरख पुलिस स्टेशन के हाउस ऑफिसर अखिलेश त्रिपाठी ने बताया कि आईपीसी की धारा 304 बी (दहेज के लिए हत्या) आरोपी पति और उसके दो भाइयों और महिला के परिजनों के खिलाफ केस दर्ज किया है. मामले की जांच जारी है.