नई दिल्ली। राष्ट्रपति चुनाव में संसद और विधानसभाओं में मतदान जारी है. मुख्य मुकाबला एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद और यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार के बीच है. मतदान के बीच विपक्ष में बगावत की खबरें आना शुरू हो गई. तृणमूल कांग्रेस और समाजवादी पार्टी में फूट के आसार दिख रहे हैं. इनके कई विधायक एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद के पक्ष में वोटिंग कर सकते हैं.

त्रिपुरा में टीएमसी के 6 विधायकों ने ऐलान किया है कि वह रामनाथ कोविंद के पक्ष में वोटिंग करेंगे. जबकि ममता बनर्जी ने मीरा कुमार को वोट देने की अपील की है. ममता बनर्जी के लिए यह एक बड़ा झटका होगा क्योंकि वह खुलकर एनडीएन का विरोध कर रही हैं और उन्होंने मीरा कुमार को समर्थन देने का ऐलान किया है.

वहीं, समाजवादी पार्टी में जारी मतभेदों के बीच क्रॉस वोटिंग होने की संभावना है. शिवपाल यादव ने एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का खुलकर समर्थन किया है जिससे संभावना व्यक्त की जा रही है कि कुछ विधायक पार्टी लाइन से अलग जा सकते हैं. एसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी के सभी विधायकों और सांसदों के वोट विपक्षी उम्मीदवार मीरा कुमार को देने की अपील की है.

यह भी पढ़ेंः राष्ट्रपति चुनाव LIVE: मोदी-शाह समेत इन दिग्गजों ने डाला वोट, टीएमसी के 6 विधायकों का कोविंद को खुला समर्थन

एनडीए का पलड़ा भारी

इस समय राष्ट्रपति चुनाव के लिए जो इलेक्टोरल कॉलेज है, उसके सदस्यों के वोटों का कुल वेटेज 10,98,882 है. जीत के लिए प्रत्याशी को हासिल 5,49,442 वोट करने होंगे. जो प्रत्याशी सबसे पहले यह वोट हासिल करता है, वह राष्ट्रपति चुन लिया जाएगा. मौजूदा हालात देखते हुए कहा जा सकता है कि चुनाव एनडीए उम्मीदवार के पक्ष में जा रहे हैं.

राष्ट्रपति चुनाव के मतों की गिनती 20 जुलाई को होगी और उसी दिन शाम तक परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे. राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है और नए राष्ट्रपति 25 जुलाई को पदभार ग्रहण करेंगे.