Live Updates

  • 11:38 AM IST

    गुलाम नबी आजाद ने कहा, देश में लोकतंत्र को किसी ने जिंदा रखा है तो सांसदों और विधायकों ने किया.

  • 11:37 AM IST

    गुलाम नबी आजाद ने कहा, देश के गरीब, शोषित और दबे-कुचले लोगों के लिए कोई दरवाजा खुला हो तो वह एक राजनेता का ही होता है.

  • 11:36 AM IST

    कांग्रेस के गुलाम नबी आजाद ने कहा, राजनेता कभी रिटायर नहीं होते.

  • 11:33 AM IST

    पीएम ने कहा, साथी के नाते एक आग्रह करूंगा कि सदन के दरवाजे बंद होने से पूरे परिसर के दरवाजे बंद हैं. आपके लिए परिसर का दरवाजा खुला है, प्रधानमंत्री कार्यालय का दरवाजा खुला है. आपके जो भी सुझाव होंगे हम उसे लागू करने की कोशिश करेंगे.

  • 11:32 AM IST

    पीएम ने कहा, मंगलवार को हंगामे की वजह से लग रहा था कि यह विदाई समारोह का कार्यक्रम नहीं हो पाएगा, लेकिन लोगों के प्रयास से ये मौका मिल गया.

  • 11:31 AM IST

    पीएम ने कहा, खिलाड़ी दिलीप और सचिन को भी आने वाले दिनों में सदन याद रखेगा.

  • 11:30 AM IST

    पीएम मोदी ने कहा, प्रू कूरियन जिस तरह हंसते हैं, अपनी बातें समझाते हैं उससे हमें जरूर सीखना चाहिए.

  • 11:29 AM IST

    प्रधानमंत्री ने रिटायर हुए सांसदों को दी शुभकामनाएं. उन्होंने कहा, यहां बातें बताई जाती हैं उनका एक विशेष महत्व और मूल है.

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्यसभा में बोला. पिछले दो साल में रिटायर हुए 40 राज्यसभा सांसदों की विदाई पर पीएम भाषण दे रहे हैं. उन्होंने कहा कि हंगामे के कारण कई वरिष्ठ सांसद बोल नहीं पाए. इसका अफसोस है.

बता दें कि इससे पहले संसद भवन स्थित बालयोगी सभागार में आयोजित विदाई समारोह में मोदी ने रिटायर हुए सदस्यों को भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि सदन में बिताये समय के अनुभव से अब वे समाज और देश को लाभान्वित करेंगे. उन्होंने अपेक्षा जताई कि देश की विकासयात्रा में इन सदस्यों का योगदान सेवानिवृत्ति के बाद भी जारी रहेगा.

पीएम मोदी और नायडू ने पिछले दो सप्ताह से सदन की कार्यवाही में जारी गतिरोध के खत्म होने की उम्मीद जताते हुए कहा कि सेवानिवृत्त हो रहे सदस्य इस दौरान अपने अनुभव उच्च सदन में साझा कर सकेंगे. इस दौरान सम्मानित होने वाले सदस्यों को प्रधानमंत्री और सभापति ने स्मृति चिन्ह और फिल्मी गानों के संग्रह भेंट स्वरूप प्रदान किया. सम्मान ग्रहण करने वाले दो दर्जन से अधिक सेवानिवृत्त सदस्यों में सत्तारूढ़ भाजपा के लगभग सभी सदस्यों के अलावा विपक्षी दल कांग्रेस, सपा, बसपा सहित अन्य दलों के चुनिंदा सदस्य ही शामिल हुए.